कर्नाटक : स्थानीय निकाय चुनाव में बीजेपी को लगा झटका

0

बेंगलुरू : कर्नाटक के 105 शहरी स्थानीय निकाय चुनाव के लिए हो रही मतगणना के आ गये हैं जिसमे सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल कांग्रेस ने 22 में से 10 जिलों में अधिकतर सीटों पर विजय का परचम लहराया है।

एसईसी ने अपनी वेबसाइट खुलासा किया है, “31 अगस्त को हुए निकाय चुनाव में, कांग्रेस ने कुल 2,662 सीटों में से 982 सीटें जीत ली हैं, जिसमें से 10 जिलों बेल्लारी, बिदर, गडक, मैसुरू, उत्तर कन्नड़ और रायचुर में पार्टी ने बहुमत हासिल किया है।”

दूसरी तरफ, जनता दल (सेक्युलर) 375 सीटों पर जीत दर्ज की है और अपने मजबूत गढ़ हासन, मांड्या और तुमाकुरु जिलों में बहुमत हासिल किया है।

विपक्षी बीजेपी ने 929 सीटें जीती हैं और तटीय उडुपी और दक्षिण कन्नड़ समेत सात जिलों में बहुमत हासिल किया है। पूरे 22 जिलों में स्वतंत्र उम्मीदवारों ने कुल 329 सीटें जीती हैं, वहीं अन्य क्षेत्रीय संगठनों ने अन्य 34 सीटें जीती हैं।

निकाय चुनाव के नतीजे दिखाते हैं कि भाजपा ने तटीय जिलों के अपने पारंपरिक गढ़ में अच्छा प्रदर्शन किया है, जबकि कांग्रेस ने उत्तरी जिलों में अपनी बादशाहत कायम रखी है।

राज्य के उत्तरी क्षेत्र के विजयपुरा जिले में कुल 23 सीटों में से कांग्रेस और भाजपा दोनों ने आठ-आठ सीटों पर कब्जा किया है, वहीं जद(एस) ने दो सीटें तो निर्दलीयों ने पांच सीटों पर कब्जा किया है।

जद(एस) के एक पदाधिकारी ने कहा था “अगर कोई पार्टी खुद के दम पर बहुमत हासिल नहीं कर पाएगी तो, कांग्रेस और जद(एस) ने निर्णय लिया है कि वे बीजेपी को सत्ता से बाहर रखने के लिए चुनाव बाद गठबंधन करेंगे, जैसा 12 मई को राज्य विधानसभा के चुनाव में किया गया था।”

निकाय चुनावों के लिए राज्य में 67.5 प्रतिशत मतदाताओं ने मतदान किया था। भारी बारिश और बाढ़ के चलते कोडागु जिले की 45 सीटों पर चुनाव रद्द कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें…..नीति आयोग ने कहा जल्द बनेगा सार्वजनिक परिवहन के लिए एक राष्ट्र एक कार्ड

साल 2013 में 4,976 सीटों पर शहरी निकाय चुनाव हुए थे। कांग्रेस ने 1,960 सीटें जीती थीं, जबकि भाजपा और जद(एस) ने अलग-अलग 905 सीटें जीती थीं और निर्दलियों ने 1,206 सीटें जीती थीं।

loading...
शेयर करें