कार्यकर्ताओं पर हमले से भड़के बीजेपी नेता, कहा अमरिंदर सिंह पंजाब का माहौल कर रहे ख़राब

चंडीगढ़,  पंजाब प्रदेश भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) ने किसानों के नाम नक्सलियों द्वारा राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार की शह पर पार्टी के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की 96वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में घुस कर तोड़-फोड़, पथराव और पार्टी कार्यकर्ताओं पर जानलेवा हमला किये जाने की घटना की भर्त्सना की है।

पार्टी के प्रदेश महासचिव डॉ. सुभाष शर्मा ने आज यहां जारी एक बयान में कहा कि इस समस्त घटनाक्रम में पुलिस को हमलावरों का साथ देते हुए देखा गया। इससे साफ़ जाहिर होता है कि यह सब मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार द्वारा प्रायोजित था।

उन्हाेंने कहा कि बठिंडा भाजपा द्वारा अपने लोकतांत्रिक अधिकार के तहत पूर्व प्रधानमंत्री का जन्मदिन मनाने के लिए शांतिपूर्वक एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें राज्य सरकार की शह पर कुछ असमाजिक नक्सली तत्वों ने जबरन घुस कर तोड़-फोड़ की और पथराव किया। इन तत्वों ने पुरुष और महिला कार्यकर्ताओं से मारपीट भी की जिसमें कई कार्यकर्ता घायल हो गए हैं।

भाजपा कार्यकर्ता ना ही डरेगा, ना ही झुकेगा

भाजपा नेता ने कहा कि इस घटना के विरोध स्वरूप भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं ने बठिंडा में रोष प्रदर्शन किया और कैप्टन सरकार का पुतला दहन किया। उन्होंने कैप्टन सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा कार्यकर्ता न डरेगा और न ही झुकेगा। इससे पहले भी कैप्टन सरकार समर्थित गुंडों ने प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पर कथित तौर पर कातिलाना हमला कराया था और उस मामले में भी अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

इसे भी पढ़े: पंजाब: अटल जयंती समारोह में किसानों ने किया उपद्रव, भाजपा ने कांग्रेस पर लगाए आरोप

उन्हाेंने कहा कि यह सब भाजपा तथा एजेंसियों द्वारा जारी की गई इस चेतावनी को सही साबित करता है कि किसान आंदोलन की आड़ में नक्सली संगठन और असमाजिक तत्व इस आंदोलन में घुस चुके हैं जो पंजाब के अमन-शांति और भाईचारे का माहौल ख़राब करना चाहते हैं।

कैप्टन सरकार पंजाब का माहौल कर रही ख़राब

शर्मा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं पर हुआ जानलेवा हमला इस बात का साफ़ संकेत है कि ये लोग हताश और निराश हो चुके हैं और यह हिंसा पर उतारू हैं और इन्हें कैप्टन सरकार की पूरी शह हासिल है। उन्होंने कहा कि कैप्टन सरकार पंजाब का माहौल ख़राब कर अपना राजनीतिक मकसद हल करना चाहती है। उन्होंने कैप्टन सरकार को चुनौती देते हुए कहा कि इस प्रकार की हिंसा से भाजपा को रोकना सम्भव नहीं है। राज्य की जनता सब देख रही है तथा इसका हिसाब कैप्टन सरकार से लिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button