अभी अभी: बीजेपी के इस वरिष्ठ नेता की मौत से राजनीति में छाया मातम

मुंबई| महाराष्ट्र के कृषि मंत्री पांडुरंग का गुरुवार की सुबह 4 बजे दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वे 67 साल के थे। मिली जानकारी के मुताबिक, कृषि मंत्री को हार्ट अटैक आया जिसके बाद उन्हें के के सौमैया अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उनकी हालत बिगड़ गई। और गुरुवार तडके उन्होंने 4.35 बजे अंतिम सांस ली।

पांडुरंग फुंडकर

पांडुरंग फुंडकर जुलाई 2016 को फडणवीस सरकार के मंत्री मंडल में शामिल हुए थे। बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं में गिने जाते थे। उन्होंन राज्य में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष के तौर पर भी काम किया था। 1991-1996 के बीच उन्होंने बीजेपी के राज्य अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला था। तीन बार वो सांसद भी रहे। 1978 और 1980 में खमगांव विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया।

8 जुलाई 2016 को वो फडणवीस कैबिनेट में कैबिनेट मंत्री बने। फुंडकर  लोगों के बीच काफी लोकप्रिय थे।  वो एक बड़े ओबीसी नेता के रूप में भी जाने जाते थे।

भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष राज्य व केंद्रीय मंत्रियों ने पांडुरंग के निधन पर शोक जताया है।  मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और अन्य वरिष्ठ नेता पांडुरंग के अंतिम दर्शन के लिए अस्पताल जाएंगे। पांडुरंग का पार्थिव शरीर गुरुवार को अंत्येष्टि के लिए उनके पैतृक गांव विदर्भ के बुलधाना जिले के खामगांव ले जाया जा सकता है।

Related Articles