बीजेपी नेता ने 45 दिनों तक महिला से रेप कर बनाया अश्लील वीडियो, और फिर…

लखनऊ: वैसे तो रेप के मामले लगभग रोज ही देखने को मिल रहे हैं लेकिन इस बार उत्तर प्रदेश से रेप का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने सूबे की सत्तारूढ़ भाजपा को फिर आरोपों के दलदल में ढकेल दिया है। इसके अलावा, से पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली पर भी प्रश्नचिह्न लगाए हैं। दरअसल, रायबरेली में रहने वाली एक महिला ने स्थानीय भाजपा नेता निर्लेश सिंह पर 45 दिनों तक यौन शोषण करने का आरोप लगाया है। इसके अलावा पीड़िता ने पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप भी लगाया है।

दरअसल, महिला ने भाजपा नेता पर आरोप लगाया है कि एक स्थानीय भाजपा नेता ने उसका 45 दिनों तक रेप किया और उसका अश्लील वीडियो भी बना लिया। इसके बाद नेता उसे पुलिस से शिकायत न करने की धमकी देने लगा। इसके बावजूद बीते 16 जुलाई को पीड़िता ने हिम्मत जुटाकर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई लेकिन इसका कोई फ़ायदा नहीं हुआ।

महिला का आरोप है कि शिकायत दर्ज कराने के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। यहां तक कि आरोपी नेता के दबाव की वजह से पुलिस ने 164 के तहत पीड़िता का बयान तक दर्ज नहीं कराया।

पुलिस की उदासीनता देखते हुए पीड़िता ने रायबरेली एसपी का दरवाजा खटखटाया और खुद की अस्मत लूटने वाले भाजपा नेता के खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाने के लिए गुहार लगाई। पीड़िता का यह भी आरोप है कि पुलिस और अरोपी जो कि एक भाजपा नेता है दोनों ने मिलकर पीड़ित और उसके घरवालों को धमका रहे हैं, और उनके ऊपर केस वापस लेने का दवाब भी बनाया जा रहा है।

उधर, पीड़िता के पति का कहना है कि अगर उन्हे इंसाफ नहीं मिला तो वो पूरे परिवार समेत एसपी कार्यालय के सामने आत्मदाह कर लेंगे। वहीं पुलिस ने इस मामले पर चुप्पी साधी हुई है।

एक तरफ जहां यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ महिला की सुरक्षा को लेकर बड़े-बड़े दावे करते नजर आ रहे हैं। वहीं उन्ही के पार्टी के नेता बलात्कार जैसे घिनौने अपराध को अंजाम दे रहे हैं। ऐसी घटनाओं ने योगी सरकार के कार्यप्रणाली और दोगले चेहरे की पोल खोल कर राख दी है।

Related Articles