भाजपा नेता की इस करतूत पर कांग्रेस ने दागा सवाल, पूछा- क्या EC का डेटा भी कर लिया है चोरी?

नई दिल्ली: कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तारीख समय से पहले ट्वीट करने और फिर उसे डिलीट करने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आईटी सेल प्रमुख अमित मालवीय अभी तक चुनाव आयोग के निशाने पर ही थे लेकिन अब विपक्षी पार्टी के नेताओं ने भी उनपर निशाना साधना शुरू कर दिया है। दरअसल, मालवीय की इस करतूत को कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने डेटा लीक से जोड़ते हुए भाजपा पर निशाना साधा है।

आपको बता दें कि मालवीय ने अपने इस ट्वीट में कहा था कि मतदान 12 मई को व चुनाव के नतीजों की घोषणा 18 मई को की जाएगी। लेकिन जब यह ट्वीट मीडिया की नजर में आया तो अमित मालवीय ने अपना यह ट्वीट डिलीट कर दिया। हालांकि तबतक ट्विटर पर वो ट्रोल हो चुके थे और लोगों द्वारा तरह-तरह की प्रतिक्रिया देखने को मिल रही थी।

इसी बीच कांग्रेस ने रणदीप सुरजेवाला ने भी ट्वीट कर अमित मालवीय के साथ-साथ भाजपा पर  निशाना साधते हुए दो सवाल दाग दिए। उन्होंने अपने इस ट्वीट में लिखा कि भाजपा ने चुनाव आयोग से पहले ही कर्नाटक के चुनावों की तारीखों का ऐलान किया। चुनाव आयोग की विश्वसनीयता को ये सीधी चुनौती है।प्रश्न यह है- 1-क्या संवैधानिक संस्थाओं का डेटा भी भाजपा चुरा रही है? 2। क्या चुनाव आयोग श्री अमित शाह को नोटिस देगा और भाजपा के IT सेल पर FIR दर्ज करवाएगा?

हालांकि इसके पहले मालवीय ने एक ट्विटर यूजर के सवाल के जवाब देते हुए रिप्लाई किया था कि उन्हें यह जानकारी टाइम्स नाउ न्यूज चैनल से मिली थी। मालवीय से ठीक एक मिनट पहले टाइम्‍स नाउ चैनल ने भी ऐसी ही तारीखें ‘ब्रेकिंग न्‍यूज’ की तरह चलाई थीं, उसे भी लोगों के गुस्‍से का सामना करना पड़ा।

चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओपी रावत ने संवाददाताओं से कहा थी कि मतदान 12 मई को व नतीजों की घोषणा 15 मई को की जाएगी।

जब पत्रकारों ने मुख्य चुनाव आयोग से इस बावत पूछा तो उन्होंने कहा कि अगर चुनाव की तारीखें लीक हुई हैं तो इस पर जांच के बाद कानूनसम्मत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कर्नाटक विधानसभा में 224 सीटें है। विधानसभा का कार्यकाल 28 मई को समाप्त हो रहा है। वर्तमान में कांग्रेस राज्य की सत्ता में है। काग्रेस के पास 122 व भाजपा के पास 43 सीटें है।

चुनाव आयोग के अनुसार, कर्नाटक विधानसभा चुनाव अधिसूचना की तारीख 17 अप्रैल है और नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 24 अप्रैल है। नामांकन पत्रों की जांच 25 अप्रैल को होगी और नाम

Related Articles