बीजेपी विधायक साधना सिंह की राह में रोड़ो का अंबार, राष्ट्रीय महिला आयोग ने किया नोटिस जारी करने पर विचार

0

लखनऊः भाजपा विधायक की मुश्किलें बढ़ सकती हैं क्योंकि बसपा सुप्रीमो मायावती पर दिए बयान पर विवादित महिला आयोग विधायक को नोटिस जारी करेगा। साथ ही उन पर कार्रवाई की मांग केंद्रीय मंत्री ने भी की है। बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने भी उनके बयान पर पलटवार किया है।

भाजपा विधायक साधना सिंह (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने लखनऊ में कहा कि हमारी पार्टी भाजपा के तो साथ है, लेकिन मायावती के खिलाफ  की गई अपमानजनक टिप्पणी के नहीं। उन्होने कहा कि वह हमारे दलित समुदाय की एक मजबूत महिला होने के साथ ही  एक अच्छी प्रशासक भी हैं। उन्होंने कार्रवाई की मांग की है।

इससे पहले, बीजेपी विधायक साधना सिंह द्वारा बसपा प्रमुख मायावती को लेकर दिए विवादित बयान पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है। आयोग विवादित बयान पर साधना सिंह को नोटिस भेजेगा।

सतीश चंद्र मिश्रा का कहना है कि भाजपा के स्तर को प्रदर्शित करने वाले शब्दों का इस्तेमाल हमारी पार्टी प्रमुख के लिए किया गया है। वह बेहद निंदनीय हैं।

बीजेपी पर हमला बोलते हुए मिश्रा ने कहा कि सपा और बसपा के गठबंधन के बाद बीजेपी नेताओं ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है। उन्हें आगरा या बरेली के मानसिक अस्पताल में भर्ती कराए जाने की जरूरत है।

यह आपको बताना जरूरी है कि पंडित दीन दयाल उपाध्याय नगर की विधायक साधना सिंह ने शनिवार को चंदौली के बबुरी में बसपा प्रमुख पर विवादित बयान देते हुए कहा था कि सत्ता के लिए चीरहरण करने वालों से मायावती ने हाथ मिला लिया है। और उनकी किन्नर से तुलना भी की।

भाजपा विधायक ने द्रौपदी से तुलना कर कहा कि उनके प्रण के विपरीत मायावती के सत्ता के लिए सब कुछ भुलाकर समझौता कर लिया।

गेस्ट हाउस कांड का हवाला देते हुए कहा कि तब भाजपा के लोगों ने ही उनकी मदद की थी। इतना ही नहीं मायावती को नारी जाति के लिए कलंक भी बताया। भाजपा विधायक द्वारा बसपा सुप्रीमो पर अभद्र टिप्पणी से चर्चा का बाजार गरमाया हुआ है।

loading...
शेयर करें