‘नाइट क्लब’ का उद्घाटन कर विपक्ष के निशाने पर आये साक्षी महराज, बोले-मुझे दिया गया बड़ा धोखा

लखनऊ। उन्नाव से भाजपा सांसद साक्षी महाराज हाल ही में राजधानी लखनऊ में नाईट क्लब के उद्घाटन समारोह में शामिल हुए जिसके बाद उनकी काफी आलोचना हुई। अब इस मुद्दे पर अपनी सफाई देते हुए साक्षी महराज का कहना है कि उन्हें धोखे से बुलाया गया है और उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को कार्रवाई के लिये पत्र लिखा है।

साक्षी महाराज

अपने इस पत्र में साक्षी महराज ने लिखा है कि लखनऊ के अलीगंज में एक रेस्त्रां का उद्घाटन कराने के लिये रज्जन सिंह चौहान नामक वकील रविवार को उन्हें अपने साथ लेकर गए थे। चौहान को प्रतिष्ठान के मालिक सुमित सिंह और अमित गुप्ता ने अपने ‘रेस्टोरेंट’ का उद्घाटन कराने के लिये बुलाया था।

साक्षी महराज का कहना है बड़ी मुश्किल वो वहां सिर्फ दो मिनट के लिए रुके थे उन्होंने फीता काटा और चले आये।  क्योंकि उन्हें दिल्ली के लिए रवाना होना था। बाद में मीडिया के माध्यम से पता लगा कि जिस प्रतिष्ठान का उन्होंने उद्घाटन किया, वह रेस्त्रां नहीं बल्कि नाइट क्लब या हुक्का बार है।

इतना ही नहीं बीजेपी सांसद का आरोप है कि उन्हें लगता है कि ये रेस्टोरेंट इन इललीगल तरीके से चलाया जा रहा है क्योंकि उन्होंने मालिक से लाइसेंस मांगा है जो उन्हें नहीं दिया गया। साक्षी महाराज ने पत्र में कहा कि इस घटना से उनकी ‘पवित्रतम छवि‘ को बहुत गहरा आघात लगा है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक से गुजारिश की है कि उस तथाकथित रेस्त्रां की जांच कराकर गलत पाये जाने पर उसे बंद कराया जाए और दोषी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

आपको बता दें कि रविवार को उन्होंने एक नाइट क्लब का उद्घाटन किया है। जिसके बाद तस्वीरे वायरल होने लगी। इस बात को लेकर विपक्ष ने निशाना भी साधा था। यह नाइट क्लबब लखनऊ के अलीगंज में है। यह एक नाईट लाउंज बार है। यहां डांस और अल्कोहल का इंतजाम रहेगा। इस पर सपा प्रवक्ता ने कहा है कि दूसरों को भारतीय संस्कृति का पाठ पढ़ाने वाले खुद क्या कर रहे हैं, क्या वे इस पर कुछ कहेंगे। इससे पहले योगी सरकार के मंत्री स्वाति सिंह बीयर बार का उद्धाटन कर विवादों में फंस गई थीं।

Related Articles