मुहिम बन चुका है बीजेपी का नारा, ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ की राह पर देश

0

नई दिल्ली: वर्ष 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ नारा लगाती नजर आती थी। तब किसी को यह एहसास नहीं था कि यह भाजपा का कोई नारा नहीं बल्कि एक मुहिम है। लेकिन अब जैसे जैसे देश में भाजपा की सत्ता का विस्तार हो रहा है भाजपा की यह मुहिम भी समझ में आने लगी है।

गुरूवार को बिहार में महागठबंधन से नाता तोड़कर भाजपा के समर्थन से दोबारा मुख्यमंत्री पद पर काबिज होने के बाद से यहां भी भाजपा सत्ता में आ गई है।

यह भी पढ़ें: नीतीश के फैसले पर चला राजनीतिक चाबुक, हुए कई वार

इस वक्त देश के 17 राज्यों में भाजपा नीत एनडीए की पूर्ण बहुमत वाली सरकार है। इनमें गुजरात, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, गोवा, हरियाणा, महाराष्ट्र, असम, झारखंड और अब बिहार अहम हैं। 2014 के आम चुनाव में बीजेपी की प्रचंड जीत से नरेंद्र मोदी का कद बढ़ा और कांग्रेस के हाथ से सत्ता फिसलनी शुरू हो गई।

यह भी पढ़ें: नीतीश कुमार ने छठी बार ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, मोदी बने डिप्टी सीएम

 अगर देश की कुल जनसंख्या को लेकर आकलन करें तो वर्तमान समय में देश भगवा रंग में रंगा हुआ नजर आ रहा है। देश की करीब 67 फीसदी जनसंख्या पर भाजपा ने नेतृत्व वाली एनडीए का शासन है। यह कहना बिलकुल भी गलत नहीं होगा कि वर्तमान समय में भाजपा देश की सबसे पड़ी राजनीतिक पार्टी बन गई है जो उसके ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ मुहिम के लिए एक बहुत ही जरूरी है।

यह भी पढ़ें: डोकलाम विवाद के बीच चीन के बदले सुर, पीएम मोदी की तारीफ में बांधे पुल

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव 2014 से अब तक देश में भाजपा का कद बढ़ता ही जा रहा है और उसके सामने कांग्रेस बौना साबित होता जा रहा है। बीते लोकसभा चुनाव में केंद्र की सत्ता पर अधिपत्य  स्थापित करने वाली भाजपा ने एक-एक करके लगभग कई राज्यों के चुनाव में जीत का परचम लहराया है।

अगर वर्ष 2015 के फरवरी में दिल्ली, नवंबर में हुए बिहार और वर्ष 2017 में हुए पंजाब विधानसभा के फैसलों को हटा दिया जाए तो लगभग हर चुनाव में भाजपा का परचम लहराया है।

loading...
शेयर करें