नेत्रहीन छात्रों को मिल गया बस का सहारा

आगरा। कीठम स्थित सूरकुटि के नेत्रहीन विद्यार्थियों को अब पैदल स्कूल जाते समय दुर्घटना का भय नहीं सताएगा। अभी तक अनुभव और लाठी के सहारे पैदल शिक्षा प्राप्त करने के लिए स्कूल तक जाने वाले सूरकुटि के विद्यार्थियों के लिए लॉयन्स क्लब आगरा प्रयास व माया मित्तल चैरिटेबिल ट्रस्ट द्वारा लगभग 8 लाख कीमत की बस सूरकुटि मंडल के महामंत्री विजय कुमार शर्मा को उसकी चाबी देकर प्रदान की गई है। नेहरू नगर स्थित राधाकृष्ण में मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में क्लब के अध्यक्ष चंदर सचदेवा व माया टैरिटेबिल ट्रस्ट के संस्थापक आरएस मित्तल ने बस की चाबी स्कूल के प्रधानाचार्य को सौपी।

मुख्य अतिथि डीआईजी लक्ष्मी सिंह ने इस नेक कार्य की सराहना करते हुए कहा कि अपनी सुख सुविधाओं से इतर अन्य लोगों के बारे में सोचना आज के समय में बहुत बड़ी बात है। उन्होने इस नेक कार्य के लिए क्लब को बधाई दी सराहना भी की। विशिष्ट अतिथि लॉयन्स क्लब की डिस्ट्रिक गवर्नर रेनू नंदा व एमजेएफ जितेन्द्र चौहान ने कहा कि जरूतमंदों की सहायता करना ही ईश्वर की सच्ची आराधना है। क्लब की एमजेएफ आशू मित्तल ने अतिथयों का परिचय दिया व समिति द्वारा किए जा रहे सेवा कार्यों पर प्रकाश डाला। आशु मित्तल ने अतिथियों का स्वागत किया। संचालन विनीत खेरा व पूनम सचदेवा ने किया।

हाई-वे पार कराने के लिए रहता था सहारे का इंतजार

सूरकुटि के विद्यार्थियों संतोष कुमार देव नारायण, रोहित कुमार, रोशन लाल, विष्णु कुमार, प्रशांत कुमार, प्रदीप कुमार, हरिओम, हरिबाबू कबीर दास ने बताया कि हमारा स्कूल लगभग 5 किमी दूर है। जहां हाई-वे क्रास कर हमें पैदल जाना पड़ता है। हाई-वे क्रास करने के लिए हर रोज ऐसे भले लोगों के इंतजार में खड़े रहना पड़ता है जो हमारा हाथ पकड़ सड़क क्रास करा दें। लेकिन अब हमें इस तरह की समस्या नहीं होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button