जानलेवा ब्लू व्हेल ने आगरा में दी दस्तक, घर से भागी दो छात्राएं

0

आगरा। दुनियाभर के लिए खतरा बन चुका ब्लू व्हेल गेम अबतक न जाने कितने लोगों की जान ले चुका है। न जानें कितने बच्चों ने टास्क को पूरा करने के लिए मौत को गले से लगा लिया। ऐसे में आगरा के आर्मी पब्लिक स्कूल की दो छात्राएं भी गेम में बुरी तरह फंस गयी हैं। जिसके चलते दोनों अपने घर से भाग गयीं।

यह भी पढ़ें, बागपत हादसे में मरने वालों की संख्या 22 हुई

जानलेवा ब्लू व्हेल

अपने घर से भागने के बाद 700 किलोमीटर दूर होशंगाबाद रेलवे स्टेशन पर टास्क पूरा करने के बाद घूम रही छात्राओं को जीआरपी ने शक होने पर पकड़ लिया। उन्होंने इसकी जानकारी आगरा पुलिस और परिजनों को दी। उसके बाद वो बुधवार को सुबह उन्हें ले आये।

पुलिस के मुताबिक, आगरा के सदर क्षेत्र में रहने वाली दोनों छात्राओं में एक के पिता पूर्व फौजी और दूसरी के व्यापारी हैं। दोनों छात्राओं की सहेलियों ने कुछ दिन पहले ही उन्हें ब्लू व्हेल गेम के बारे में बताया था। जब उन्होंने गेम को खेलना शुरू किया तो पहला टास्क उन्हें सुबह 4।20 बजे उठकर घर का बल्ब एवं ट्यूबलाइट फोड़ने का मिला।

इस टास्क को कम्पलीट करने के बाद दूसरा टास्क उन्हें शहर से दूर किसी रेलवे स्टेशन पर पहुंचने का मिला। अगले दिन सोमवार को दोनों स्कूल से घर नहीं लौटीं। इस दौरान वो कैंट रेलवे स्टेशन से पंजाब मेल में सवार हो गईं। इसके अलावा अपने लैपटॉप से अपनी लोकेशन अपडेट करती रहीं।

इसके बाद मंगलवार को उन्हें होशंगाबाद स्टेशन पर पहुंचकर अपनी सेल्फी लेनी थी। इस दौरान दोनों ने वेटिंग रूम में अपनी सेल्फी लेकर अपलोड कर दी। हालांकि इस बीच देर रात होने पर वो डर गयीं। जहां उन दोनों को घूमता हुआ देख जीआरपी को उनपर शक हुआ। इसके बाद आगरा पुलिस को इसकी पूरी जानकारी दी गयी।

loading...
शेयर करें