किसने कहा,‘शराब नशा नहीं दवा है’

punjab-mantri

नई दिल्ली। पंजाब के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सुरजीत कुमार जियानी ने एक बेतुका बयान देकर अपनी फजीहत करवा ली है। सुरजीत ने इस बार शराब को लेकर बयान दिया। एक नशा मु्कित केंद्र के उद्घान में पहुंचे मंत्री जी ने शराब को नशा मानने के ही इनकार दिया।

मंत्री का बयान
स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सुरजीत कुमार ने कहा कि मैं शराब को नशा नहीं मानता। मंत्री जी ने अपने इस बयान पर बाकायदा तर्क भी दिया। उनके मुताबिक, आप इसे नशा नहीं कह सकते, क्योंकि फैक्ट्रियों को इसके लिए मंजूरी मिलती है। बकायदा टेंडर भी निकाला जाता है। बताइए तो फिर आप कैसे कहेंगे कि शराब नशा है?

सेना को भी लपेटा
स्‍वास्‍थ्‍यमंत्री यहीं नहीं रुके अपने बयान को सिद्ध करने के लिए उन्होंने सेना को भी लपेट लिया। उन्होंने कहा कि आर्मी में शराब और पार्टियों में शराब आदि के इस्तेमाल को लेकर सरकारी लाइसेंस मिलता है। हम ठेकों की नीलामी करते हैं तो हम कैसे कहेंगे कि शराब नशा है।

पहली बार नहीं दिया विवादित बयान
सुरजीत कुमार ने पहली बार ऐसा बयान नहीं दिया जिस पर चर्चा हो रही हो। इससे पहले सुरजीत कुमार ने रोड पर होने वाले एक्सीडेंट के लिए सड़क पर चलने वाले लोगों को जिम्मेदार बता दिया था। मंत्री जी के मुताबित, ”कोई भी ड्राइवर किसी को मारना नहीं चाहता, लोगों की गलती है कि वो अपनी सुरक्षा का धयान नहीं रखते।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button