रिश्वतखोर बाबू की खुली पोल, 500 रुपए लेने का वायरल हुआ वीडियो

0

लखनऊ. मामला एसएसपी कलानिधि नैथानी के कार्यालय का है जहां रिश्वतखोरी एक और मामला सामने आया है और यह मामला एक वायरल वीडियो कि वजह से सामने आया है जिससे खुलासा हुआ कि डीसीआरबी विभाग में तैनात एक बाबू ने शस्त्र लाइसेंस की फाइल पास कर आगे बढ़ाने के नाम पर 5 सौ रुपए रिश्वत ली। आवेदक ने रिश्वतखोर बाबू की करतूत मोबाइल में कैद कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। मामला संज्ञान में आते ही एसएसपी ने बाबू को सस्पेंड कर दिया है।

यह वीडियो 25 फरवरी का है वीडियो

मामला वजीरगंज की बांसमंडी स्थित एसएसपी की ऑफिस का है। यहां पुलिस से संबंधित कई विभागों के कार्यालय हैं। 56 नंबर कमरे में डीसीआरबी का कार्यालय है। यहां चरित्र प्रमाण, शस्त्र लाइसेंस समेत कई अन्य मामलों की फाइलें जांच कर आगे बढ़ाई जाती हैं। 25 फरवरी को एक आवेदक अपने शस्त्र लाइसेंस की फाइल पास कराने पहुंचा। यहां आने पर आवेदक ने देखा कि फाइल पास करने वाला बाबू रुपए लेकर काम कर रहा है। आवेदक ने अपने मोबाइल के कैमरे से रिश्वत लेते हुए उसका वीडियो बना लिया और गुरुवार को सोशल मीडिया में वायरल कर दिया। वायरल वीडियो में एक व्यक्ति डीसीआरबी कार्यालय में पहुंचता है और बाबू को शस्त्र लाइसेंस की फाइल आगे बढ़ाने के लिए 5 सौ रुपए देता है। संबंधित बाबू बोलता है कि कम हैं। इस पर व्यक्ति बोलता है कि भैया, हम पहले भी कई शस्त्र लाइसेंस की फाइलें 5-5 सौ रुपयों में पास करा चुके हैं। इस पर वह मुस्कुराते हुए 5 सौ रुपए लेकर जेब में रख लेता है।

वीडियो में आवेदक कर रहा है 100 रुपए के लिए विनती

आरोपी बाबू की यह करतूत देख लाइन में लगा शस्त्र लाइसेंस के एक आवेदक ने अपने फोन कैमरे को चालू करके शर्ट की जेब में रख लिया और उनकी पूरी करतूत को कैद कर लिया। वीडियो बनाने वाला युवक बाबू को चार सौ रुपए देता है। इस पर बाबू बोलता है कि सौ रुपए कम हैं। आवेदक बोलता है कि दादा सौ रुपए छोड़ दो… बाइक में तेल भराना है। लेकिन, आरोपी बाबू अनुरोध नहीं मानता है और पूरे 5 सौ रुपए लेता है। उसके बाद आवेदक पूछता है कि सीओ ऑफिस फाइल कब पहुंचेगी, तो बाबू बोलता है कि कल या परसो पहुंच जाएगी। वीडियो बनाने वाला कहता है कि जल्द फाइल भेज देना। क्योंकि 7 मार्च से आचार संहिता लगने के आसार हैं।

बाबू हुए सस्पेंड

एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि डीसीआरबी में तैनात हेड कॉन्स्टेबल हमीद उल्लाहा को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। इस मामले की जांच एसपी ऑफिस विक्रांत वीर को सौंपी गई है। एसएसपी ने एएसपी क्राइम से स्पष्टीकरण मांगते हुए इस तरह के भ्रष्टाचार के मामलों में नकेल कसने के निर्देश दिए हैं।

loading...
शेयर करें