UP चुनाव में बीजेपी के ब्राह्मण नेताओं ने रखी जेपी नड्डा के सामने ये मांग

केंद्रीय मंत्री और यूपी चुनाव के प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान के घर यूपी के सभी ब्राह्मण मंत्रियों की बैठक हुई

यूपी चुनाव को लेकर बीजेपी पूरे दमखम के साथ जुटी हुई है. इसी क्रम में बीजेपी पहले ब्राह्मणों की नाराजगी दूर कर उन्हें फिर से अपने साथ करने में जुटी है. इसी के लिए केंद्रीय मंत्री और यूपी चुनाव के प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान के घर रविवार को यूपी के सभी ब्राह्मण मंत्रियों की बैठक हुई. उसके बाद आज बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से भी कुछ ब्राह्मण नेताओं ने मुलाकात की और अपनी मांग रखी. रविवार को हुई बैठक में कई नेताओं ने राज्य सरकार और अधिकारियों की कार्यशैली पर नाराजगी भी ज़ाहिर की थी, जिसके बाद बीजेपी नेतृत्व द्वारा उस पर कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है.

अजय मिश्रा टेनी का मसला जोर-शोर से उठा

सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी के यूपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान के साथ बैठक में बीजेपी के कई नेताओं ने राज्य सरकार की कार्यशैली से जुड़े कई मुद्दों को लेकर नाराजगी जताई. बैठक में अजय मिश्रा टेनी का मसला भी जोर-शोर से उठाया गया. इस बैठक में मौजूद यूपी के डिप्टी सीएम ने कहा था कि सिर्फ़ सरकार के कार्यक्रमों को लेकर यहां मौजूद नेता अपना फीडबैक दें, लेकिन चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान ने सभी से खुलकर फीडबैक मांगा और नाराजगी के सारे मुद्दों पर जानकारी मांगी.

नेताओं ने खुलकर निकाली अपनी भड़ास

धर्मेंद्र प्रधान के ग्रीन सिग्नल के बाद कई नेताओं ने खुलकर अपनी भड़ास निकाली. अजय मिश्रा टेनी का मसला प्रमुखता से उठाया गया. हिंदू युवा वाहिनी के दखल को लेकर भी काफी ऐतराज जताया गया. इसके बाद धर्मेंद्र प्रधान ने चार नेताओं की एक समिति बनाई है, जिसके अध्यक्ष राज्यसभा सांसद और पूर्व वित्त राज्यमंत्री शिवप्रताप शुक्ला होंगे. सदस्य के तौर पर नोयडा सांसद महेश शर्मा, युवा मोर्चा के पूर्व महामंत्री अभिजात मिश्रा व गुजरात से सांसद राम भाई मुकारिया होंगे.

Related Articles