ब्रेक्जिट समझौते पर नहीं बनी सहमति, जॉनसन की आलोचना जारी

स्कॉटिश नेशनल पार्टी के नेता इयान ब्लैकफोर्ड ने भी ट्वीट कर जॉनसन की आलोचना करते हुए कहा कि, व्यापारिक समझौते को लेकर कोई सहमति नहीं बनना देश की कूटनीति और नेतृत्व की पराजय है।

लंदन: ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और यूरोपीय संघ के अध्यक्ष उरसुला वोन डेर लियेन के बीच ब्रसेल्स में तीन घंटे तक बैठक हुई। लेकिन इसके बावजूद ब्रेक्जिट पश्चात व्यापार समझौते को लेकर मौजूदा गतिरोध खत्म नहीं हो सका है जिसको लेकर जॉनसन की आलोचना हो रही है।

बोरिस जॉनसन के खिलाफ विपक्षी दल ने खोला मोर्चा 

ब्रिटेन में विपक्षी दल लेबर पार्टी की नेता एंजेला रायनेर ने गुरुवार को जाॅनसन की आलोचना करते हुए ट्वीट किया, “एक वर्ष पहले बोरिस जॉनसन ने हमें एक बेहतर समझौते का वादा किया था जिसमें वह पूरी तरह से विफल हो गए हैं। इस विफलता के लिए केवल वहीं दोषी हैं।”

रायनेर का यह बयान ब्रिटेन के प्राधानमंत्री कार्यालय के उस बयान के बाद आया जिसमें कहा गया कि जॉनसन और यूरोपीय संघ के अध्यक्ष के बीच हुई बातचीत का कोई नतीजा नहीं निकल पाया है। ब्रेक्जिट के बाद यूरोपीय संघ के साथ व्यापार समझौते को लेकर अब भी दोनों पक्षों के बीच कई मुद्दों पर गतिरोध बना हुआ है।

गौरतलब है कि ब्रिटेन इस वर्ष 31 जनवरी 2020 को यूरोपीय संघ से अलग हो गया था। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच भविष्य के व्यापारिक रिश्तों की दशा और दिशा तय करने को लेकर उन्हें 11 महीनों का समय दिया गया था।

2021 से स्वतः लागू होंगे विश्व व्यापार संगठन के नियम

स्कॉटिश नेशनल पार्टी के नेता इयान ब्लैकफोर्ड ने भी ट्वीट कर जॉनसन की आलोचना करते हुए कहा कि, व्यापारिक समझौते को लेकर कोई सहमति नहीं बनना देश की कूटनीति और नेतृत्व की पराजय है।

उल्लेखनीय है कि यूरोपीय संघ और ब्रिटेन के बीच कोई व्यापारिक समझौता नहीं होने की स्थिति में 2021 की शुरुआत से ही विश्व व्यापार संगठन के नियम ब्रिटेन पर स्वत: ही लागू हो जायेंगे।

यह भी पढ़ें- अमेरिकी सांसद ने चीनी जासूस के साथ खुफिया जानकारी साझा करने के आरोपों से किया इनकार

यह भी पढ़ें- जिस किसान का अन्न खाया, उसे पाकिस्तानी एजेंट बता रही भाजपा: भगवंत

Related Articles