भारत में होगा ब्रिक्स सम्मेलन, Xi-Jining से मिल सकते हैं मोदी

भारत-चीन सीमा पर पिछले कई महीनों से चल रहें विवादों के बीच अब ब्रिक्स सम्मेलन ( BRICS Conference ) करने की तैयारी की जा रही है।

नई दिल्ली: भारत-चीन सीमा पर पिछले कई महीनों से चल रहें विवादों के बीच अब ब्रिक्स सम्मेलन ( BRICS Conference ) करने की तैयारी की जा रही है। ब्रिक्स देशों की बैठक का आयोजन इस बार भारत में होने वाला है। इस बार भारत सरकार ब्रिक्स देशों की मेजबानी करने के लिए तैयार है। बताया जा रहा है कि इस ब्रिक्स की बैठक में चीनी राष्ट्रपति शी-जिनपिंग ( Xi-Jining ) भी भारत आ सकते हैं।

एक दिन पहले चीन ने कहा था कि भारत में होने वाला ब्रिक्स सम्मेलन का वह समर्थन करते है। भारत व अन्य देशों के साथ मिलकर वे विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को मजबूती देना चाहते हैं।

शी जिनपिंग से मिल सकते है मोदी 

ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि ब्रिक्स सम्मेलन से पहले अगर कोरोना महामारी नियंत्रण में आ जाती है तो चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ( Xi Jinping ) भी भारत की यात्रा पर आ सकते हैं।

ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी( Prime Minister Narendra Modi )  से चीनी राष्ट्रपति की मुलाकात भी हो सकती है। बता दें कि सीमा विवाद के बाद यह पहला ऐसा पल होगा जब दोनों देशों के सर्वोच्च नेतृत्व की मुलाकात इस बैठक में होगी। ऐसे में चीनी विदेश मंत्रालय द्वारा ब्रिक्स बैठक को काफी महत्व दिया जा रहा है।

सीमा की हालात पर बोलते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा कि चीन भारत द्वारा आयोजित ब्रिक्स सम्मेलन का समर्थन करता है. चीन भारत व अन्य ब्रिक्स के देशों के साथ सहयोग बढ़ाना चाहता है और अर्थव्यवस्था, मानवता और राजनीति इन पहलों को और भी मजबूती प्रदान करना चाहता है।

यह भी पढ़ें: ING vs ENG: तीसरे मुकाबले से पहले Team India के लिए अच्छी खबर, इस खिलाड़ी की हुई वापसी

Related Articles

Back to top button