ठीक सात फेरों से पहले टूटी शादी और लौटी बारात.

0

आगरा. थाना ताजगंज इलाके की एक शादी में सात फेरे पड़ने से पहले दूल्हे ने दहेज में मांगी पजेरो गाड़ी और डिमांड न पूरी होने पर शादी तोड़ बारात वापस लेते गया फिर यह मामला पुलिस के पास पहुंचा। पुलिस ने मामला सुलझाने की पूरी कोशिश की लेकिन बात नहीं बन पाई। लड़की के घर वालों ने वर पक्ष से संबंध रखने से इंकार कर दिया। लड़की पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने वर पक्ष पर केस भी दर्ज किया है।

युवती कमला नगर के कर्मयोगी इंक्लेव की रहने वाली डेंटल डॉक्टर है। नौ मार्च को उसकी शादी थाना न्यू आगरा के दयाल बाग अंतर्गत सरला बैग निवासी फैक्ट्री संचालक सागर गर्ग के साथ हो रही थी। शादी का कार्यक्रम फतेहाबाद रोड स्थित एक रिजॉर्ट में रखा गया था। धूमधाम से बारात आई, सभी शादी समारोह की तैयारियों में लगे हुए थे। बारातियों का स्वागत किया गया, लेकिन जयमाल पड़ने के बाद फेरे पड़ने से पहले जो हुआ उससे सभी के होश उड़ गए।

सात फेरों से पहले मांगी पजेरो

युवती के घर वाले शादी में करीब 35 लाख से ज्यादा खर्च कर चुके थे शादी बिलकुल पारंपरिक तरीके से एक एक रीती-रिवाज से आगे बढ़ रही थी कि दूल्हा सागर गर्ग और उसकी माँ रेणु गर्ग ने ठीक सात फेरों से पहले दहेज़ में पजेरो की मांग की, लड़की के परिवार ने मांग पूरी करने से इंकार कर दिया तो दूल्हे ने बारात वापस कर ली। बारात वापसी के बाद लड़की के घरों वालों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस भी मामला सुलझा नहीं सकी तो मामला समाज की पंचायत में पहुंचा। जिसमें लड़की पक्ष को शादी का पूरा खर्च लौटाने की बात तय हुई। लेकिन तीन दिनों तक उन्हें सिर्फ आश्वासन दिया गया।

दूल्हे ने लड़की पक्ष पर दर्ज किया मुकदमा

लेकिन इसी बीच दूल्हा सागर गर्ग लड़की पक्ष को गलत ठहराते हुए थाना ताजगंज में मुकदमा दर्ज कराने की कोशिश की। गनीमत रही कि लड़की पक्ष को जानकारी मिल गयी और उन्होंने तत्काल एसएसपी से शिकायत करके थाना ताजगंज में मुकदमा दर्ज कराया है। पीड़ित पक्ष दोबारा लड़के के घर वालों से सम्बन्ध नहीं रखना चाहता है।

loading...
शेयर करें