ब्रुनेई: क्रिसमस मनाने पर मिलेगी जेल

Brunei Sultan

बंदर सेरी बेगावान। ब्रुनेई के सुल्तान हसनाल बोलकिया ने देश के सार्वजनिक स्थानों पर क्रिसमस सेलिब्रेशन बैन कर दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर देश के मुस्लिमों ने इसे मनाने की कोई तैयारी की है तो फिर उन्हें पांच वर्ष की या इससे ज्यादा की सजा झेलने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

सेंटा टोपी पहनी तो होगी जेल
बोर्नियो द्वीप पर स्थित इस मुस्लिम देश ने कहा है कि किसी को भी इस मौके पर बधाई देते हुए भी पाया गया या किसी ने सैंटा टोपी पहनी तो जेल की सजा भुगतनी होगी। गैर मुस्लिम समुदाय के लोगों को क्रिसमस मनाने की अनुमति है, लेकिन वे अपने समुदाय से बाहर नहीं जाएंगे और पहले प्रशासन को सूचित करेंगे। पेट्रोलियम संपन्न इस देश की कुल आबादी 420,000 है। इनमें से 65 प्रतिशत मुस्लिम हैं।

इस्लाम के खिलाफ है क्रिसमस मनाना
इस महीने की शुरुआत में मुस्लिमों के इमामों के एक ग्रुप ने चेतावनी दी थी वैसे किसी भी उत्सव को नहीं मनाना है जो गैर इस्लामिक है। बोर्नियो बुलेटिन के मुताबिक इमामों ने कहा था, क्रिसमस उत्सव के दौरान मुस्लिम भी ईसाइयों की तरह व्यवहार करते हैं। वे क्रॉस धारण करते हैं, कैंडल जलाते हैं, क्रिसमस ट्री बनाते हैं, उनके धार्मिक गीत गाते हैं, क्रिसमस की बधाई देते हैं और उनके धर्म की प्रशंसा करते हैं। ये सारी गतिविधियां इस्लाम के खिलाफ हैं।

बहुत ही ओछी हरकत है
वहीं कुछ लोगों का कहना है कि यह बेहद ही ओछी हरकत है और इसे मुद्दा नहीं बनाना चाहिए, लेकिन एक मुस्लिम राष्ट्र के रूप हमें इन गतिविधियों से बचना चाहिए क्योंकि इससे इस्लामिक आस्था पर चोट पहुंच सकती है।

ब्रिटेन का रहा उपनिवेश
ब्रुनई ब्रिटेन का उपनिवेश रहा है। अभी यहां निरंकुश मुस्लिम राजशाही है। 67 साल के हसनल बोल्किया यहां के सुलतान हैं। यहां पर राजनीतिक असंतोष न के बराबर है। लोग काफी संपन्न हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button