BSNL और MTNL को मिलेगी संजीवनी, ग्राहकों के लिए खुशखबरी, 5G की सौगात

नई दिल्ली: 5G की दौड़ में देश की पब्लिक सेक्टर टेलिकॉम कम्पनी BSNL और MTNL भी शामिल हो गई है, 5G सेवा प्रदाता बनने के लिए BSNL और MTNL को निजी टेलीकॉम कंपनियों की तरह स्पेक्ट्रम के लिए बोली नहीं लगानी होगी। केंद्र सरकार इन दोनों सरकारी टेलीकॉम कंपनियों को अलग से 5G Spectrum आवंटित करेगी। केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने संसद में एक सवाल के जवाब में बताया कि BSNL और MTNL को 5G Spectrum आवंटन में हिस्सा लेने की जरूरत नहीं है। केंद्र सरकार इन दोनों कंपनियों के लिए अलग से स्पेक्ट्रम आवंटित करेगी।

बताते चलें कि भारत सरकार ने 5G network आवंटन के लिए इसी महीने Spectrum नीलामी की प्रक्रिया पूरी की है। जानकारी के मुताबिक तमाम Private Telecom कंपनियां इस साल के अंत तक 5G सेवा शुरू कर सकती हैं। जानकारों का कहना है कि अगर भारत सरकार BSNL और MTNL को 5G Spectrum आवंटित कर भी देती है तो उपभोक्ताओं को इसके लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ सकता है। भारत संचार निगम लिमिटेड ने हाल ही में पूरे देश में 4G network बहाल करना शुरू किया है। रिपोर्ट्स के अनुसार इस साल के अंत तक ही पूरे देश में BSNL की 4G सेवा शुरू हो पाएगी।

ये भी पढ़ें : Corona की चपेट में आए Cricket के भगवान, Social Media पर दी जानकारी

क्या है सरकार का 5G Spectrum को लेकर योजना

गौरतलब है कि भारत में अभी 5G सेवाएं शुरू होनी है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि भारत सरकार ने वर्ष 2021-22 में 4G सर्विस के लिए Spectrum के लिए 24,084 करोड़ रुपये की धनराशि आवंटित की है। BSNL ने अपनी आगामी 4G Network की निविदा के लिए Proof of concept (अवधारणा) व रजिस्ट्रेशन के लिए Expression of Interest (अभिरुचि पत्र) जनवरी में आमंत्रित कर चुकी है। उन्होंने कहा कि BSNL एक अप्रैल से दिल्ली Licensed service area (लाइसेंस प्राप्त सेवा क्षेत्र) में MTNL की मोबाइल सेवाओं का प्रबंधन करेगी।

Related Articles

Back to top button