IPL
IPL

महोत्सव मनाने और साइकिल चलाने में लगी है यूपी सरकार, अपराधी कर रहे जय जयकार

mayawati
पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिर यूपी की सपा सरकार पर तीखे प्रहार किये हैं। उनका कहना है कि समाजवादी पार्टी की सरकार के नेता साइकिल चलाने, परिवार को प्रमोट करने और फैमिली शो (सैफई महोत्सव) में बहुत बिजी हैं। इसलिए यहाँ कानून-व्यवस्था बहुत बिगड़ चुकी है। अपराधी बेलगाम हो गए हैं।

सपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि ‘जनसेवा, जनहित और जनकल्याण’ के साथ अपराध-नियंत्रण और अच्छी कानून-व्यवस्था कभी भी सरकार की प्राथमिकता में नहीं रही है। इनके जनविरोधी कामों से पूरे प्रदेश में हर स्तर पर अराजकता का माहौल है।

हालाँकि मायावती ने नए डीजीपी जावीद अहमद की तारीफ करते हुए कहा कि उनका रिकॉर्ड एक योग्य और ईमानदार अफसर का रहा है, लेकिन यूपी में वो ईमानदारी से काम नहीं कर पाएंगे।
मायावती ने ये बातें सोमवार को लखनऊ में बसपा की मीटिंग में कही। इसमें यह भी तय किया गया कि बीएसपी 15 जनवरी को मायावती का जन्मदिन हर जिले में जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाएगी।केंद्र सरकार पर भी साधा निशाना

पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने केंद्र सरकार को भी अपने निशाने पर रखा। उन्होंने कहा कि केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार की खासकर पाकिस्तान के बारे में विदेश नीति काफी लचर और अस्थिर है। इसकी वजह से भारत-पाक सीमा पर हालात बेहतर नहीं हो पा रहे हैं। स्थिति लगातार बिगड़ती जा रही है। सरकार बनने के बाद ऐसा लगा था कि बीजेपी के शासनकाल में पाक को लेकर भारत की नीति में बदलाव आएगा और हालात सुधरेंगे लेकिन हकीकत कुछ और ही है। मोदी के शासनकाल में भी पाकिस्तान से रिश्ते को लेकर कोई प्रभावी नीतियां नजर नहीं आ रही है। चुनावों के दौरान और एनडीए की सरकार केंद्र में बनने के बाद भी बीजेपी के नेता भड़काऊ बयानबाज़ी कर रहे हैं। उन्‍होंने ये भी कहा कि सपा और बीजेपी की मिलीभगत से प्रदेश का माहौल लगातार खराब होता जा रहा है।
बसपा की बैठक के महत्वपूर्ण फैसले 
बीएसपी की मीटिंग में पार्टी पदाधिकारियों को यूपी असेंबली इलेक्शन को लेकर जिम्मेदारियां दी गईं।
मीटिंग में संगठन के काम, सर्वसमाज में पार्टी के जनाधार को बढ़ाने के मिशनरी कार्यों पर चर्चा की गई।
चर्चा के दौरान जन कल्‍याणकारी दि‍वस पर जिला स्तर पर कार्यक्रम आयोजित करके क्षेत्र के अति-गरीबों, असहाय और अन्य जरूरतमंद लोगों की मदद करने का फैसला लिया गया।
इसके लि‍ए पार्टी के कार्यकर्ताओं, वि‍धायकों और सांसदों को अभी से जुट जाने को बोला गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button