Budget 2021: UP के इन शहरों में दौड़ेगी लाइट मेट्रो

लखनऊ: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में देश के कई राज्यों में मेट्रो चलाने के लिए प्रावधान किए हैं। इससे उत्तर प्रदेश के तीन फेमश शहरों में लाइट मेट्रो चलने की राह आसान हो गई है। यह शहर ऐसे हैं जहां कम आबादी और सकरी गलियां हैं।

UP के इन शहरों में दौड़ेगी लाइट मेट्रो

केंद्र सरकार ने बजट में देश के कई राज्यों में लाइट मेट्रो चलाने का ऐलान किया है। सरकार के प्रावधान से UP के गोरखपुर, प्रयागराज और वाराणसी में लाइट मेट्रो चलने की राह आसान हो गई है।

सरकार ने तैयार कर लिया था प्रस्ताव

प्रदेश की योगी सरकार ने लखनऊ, आगरा, कानपुर, मेरठ, गोरखपुर, वाराणसी और प्रयागराज में मेट्रो रेल चलाने के लिए पूरा प्लान बना लिया था। गोरखपुर, वाराणसी और प्रयागराज में आबादी कम होने के चलते मेट्रो रेल परियोजना शुरू होने में बाधा आ रही है। लेकिन केंद्र सरकार के लाइट मेट्रो के प्रावधान से इन तीन शहरों की राह आसान हो जाएगी।

हालांकि राजधानी लखनऊ में मौजूदा समय मेट्रो रेल चल रही है। कानपुर और आगरा में मेट्रो रेल परियोजना का काम शुरू हो गया है। वहीं मेरठ में रैपिड रेल परियोजना शुरू हो चुकी है। इसके अलावा कम आबादी वाले शहर गोरखपुर, वाराणसी और प्रयागराज में मेट्रो रेल शुरू होने में बाधा आ रही है।

क्या है लाइट मेट्रो परियोजना?

मेट्रो रेल परियोजना से लाइट मेट्रो की निर्माण लागत कम आती है। इससे सरकार पर बजट का बोझ भी कम हो जाएगी। अगर मेट्रो रेल के निर्माण में 200 करोड़ रुपये प्रति किमी लागत आती है, तो लाइट मेट्रो के निर्माण में लगभग 120 करोड़ रुपये की लागत आएगी।

इसके अलावा इसकी पटरियां भी ज्यादा चौड़ी नहीं होती है और इसके डिब्बे भी कम होते हैं। लाइट मेट्रो के स्टेशन भी छोटे होते हैं। यह मेट्रो खासकर छोटे शहरों के लिए होता है। इसलिए इस योजना के आने के बाद बजट ही नहीं बल्कि कम समय में भी शहरों को यह सुविधा मिल सकती है।

यह भी पढ़ें: IND vs ENG: गंभीर का विराट पर पलटवार, तारीफ में गढ़े कसीदे

Related Articles

Back to top button