Live Update Budget 2021: पहली बार होगी डिजिटल जनगणना, इतने करोड़ होंगे खर्च

नई दिल्ली: मोदी सरकार वित्त वर्ष 2021-2022 का आम बजट पेश कर रही है। इस बजट को संसद भवन में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश कर रही हैं। बजट में कृषि और स्वास्थ्य सेक्टर को लेकर खास ध्यान दिया गया है। इस आम बजट की मुख्य बातें हम आपको बताते रहेंगे।

पहली बार होगी डिजिटल जनगणना

आम बजट 2021-22 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश के इतिहास में पहली बार डिजिटल जनगणना कराने का ऐलान किया है। वित्त मंत्री ने बताया कि इसके लिए 3,760 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे।

FDI की लिमिट बढ़ाने का किया ऐलान

वित्त मंत्री निर्माला सीतारमण ने बीमा क्षेत्र में FDI की लिमिट अब 74 फीसदी तक बढ़ाने का ऐलान किया है। इससे पहले सिर्फ 49 फीसदी तक की ही मंजूरी थी।

अनुसूचित जाति के लिए 35 हजार करोड़ का ऐलान

बजट में अनुसूचित जाति के 4 करोड़ विद्यार्थियों के लिए 35 हजार करोड़ रुपये का ऐलान किया गया है। वित्त मंत्री ने कहा कि इसी क्षेत्र में संयुक्त अरब अमीरात ( UAE ) के साथ मिलकर स्किल ट्रेनिंग पर काम किया जा रहा है। इसी में भारत और जापान मिलकर भी एक प्रोजेक्ट को चला रहे हैं.

यूनिवर्सिटी बनाने का ऐलान

आम बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लेह में सेंट्रल यूनिवर्सिटी बनाने का ऐलान किया है। वित्त मंत्री ने कहा कि देश में करीब 100 नए सैनिक स्कूल बनाए जाएंगे।

उज्ज्वला योजना में और लोगों को जोड़ा जाएगा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आम बजट में ऐलान किया कि उज्ज्वला योजना के तहत एक करोड़ और लाभार्थियों को जोड़ा जाएगा। इस योजना के तहत अभी तक 8 करोड़ लोगों को ये मदद दी जा चुकी है। जम्मू-कश्मीर में गैस पाइपलाइन योजना की भी शुरुआत की जाएगी।

Related Articles

Back to top button