राज्य निर्माण की जन भावनाओं को पहुंचाने के लिए बुनिमो ने सांसदों को लिखा पत्र

बुनिमो के अध्यक्ष भानु सहाय ने क्षेत्रीय सांसद को अपनी मांग के संबंध में पत्र सौंपने के बाद कहा कि राज्य निर्माण को लेकर सांसदों को पत्र भेजा गया है. केंद्र सरकार छोटे राज्यों के निर्माण पर विचार कर रही है

झांसी: बुंदेलखंड निमार्ण मोर्चा (बुनिमो) के तत्वाधान में बुंदेलखंड राज्य निर्माण की मांग का लेकर क्षेत्रीय सांसद अनुराग शर्मा को शुक्रवार को पत्र सौंपा गया और अन्य आठ सांसदों को डाक से पत्र भेजा गया.

बुनिमो के अध्यक्ष भानु सहाय ने क्षेत्रीय सांसद को अपनी मांग के संबंध में पत्र सौंपने के बाद कहा कि राज्य निर्माण को लेकर सांसदों को पत्र भेजा गया है. केंद्र सरकार छोटे राज्यों के निर्माण पर विचार कर रही है ऐसे में पत्र के माध्यम से सांसदों से मांग की गयी है कि वह प्रधानमंत्री और गृहमंत्री को बुंदेलखंड के लोगों की भावना के बारे में बतायें साथ ही अपने राजनीतिक दलों के राष्ट्रीय अध्यक्ष को पत्र लिखकर आग्रह करें कि इस क्षेत्र के निवासी उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के हिस्सों को मिलाकर अखंड बुंदेलखंड राज्य के पक्षधर हैं.

बुनिमो ने सांसदों को दिए पत्र में बताया कि उमा भारती, नरेन्द्र मोदी व राजनाथ सिंह ने चुनावी जन सभाओं में बुन्देलखंडवासियों से वादा किया था कि उनकी सरकार बनने के तीन साल के भीतर बुन्देलखंड राज्य बनवा दिया जायेगा लेकिन तीन की जगह आज छह साल 5 माह बीत गये पर अभी तक केन्द्र सरकार ने बुन्देलखंड राज्य निर्माण के पक्ष में किसी भी तरह की कोई कार्यवाही तक प्रारम्भ नहीं की है जिससे बुन्देलखंडवासियों में आक्रोश व्याप्त होता जा रहा है.

इस निराशा के बीच अब क्षेत्र की जनता सांसदों की ओर आशा भरी निगाहों से निहार रही है. आपका सहयोग अगर प्राप्त नहीं हुआ तो वाध्य होकर सड़क पर विरोध किया जायेगा. इस दौरान, रघुराज शर्मा, हमीदा अंजुम, वरुण अग्रवाल, गिरजा शंकर राय, उत्कर्ष साहू, गोलू ठाकुर, रसीद कुरैसी, प्रदीप नाथ झा, नरेश वर्मा, ब्रजेश राय, प्रेम सपेरे, विकास पुरी, अनिल कश्यप, राम गुप्ता सदर, अनुराग मिश्रा आदि उपस्थित रहे.

यह भी पढ़े: प्रयागराज : हाई कोर्ट ने शादी के लिए धर्म परिवर्तन को ठहराया अवैध

Related Articles

Back to top button