बुराड़ी डेथ मिस्ट्री: मोक्ष की चाहत में लगाया मौत को गले? रजिस्टर में लिखी चौकानें वाली बातें!

0

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में रविवार को हुई सनसनीखेज घटना ने पूरे राजधानीवासियों को सकते में डाल दिया है. एक ही घर में 11 शव मिलने की खबर से पुलिस के भी होश फाख्ता हैं. हर किसी के मन में बस यही सवाल है कि कोई एक ही परिवार के सभी लोगों की जान कैसे ले सकता है. वहीं अगर सभी ने आत्महत्या की तो इसकी क्या वजह हो सकती है?

इन सवालों के बीच जैसे-जैसे पुलिस ने तफ्तीश आगे बढ़ाई, सवालों के जवाब भी मिलने लगे. इस बात के संकेत मिले कि तंत्र-मंत्र का फेर इस बड़े परिवार की मौत की वजह बन गया. हालांकि, यह खुदकुशी है या शातिर रणनीति के तहत की गई हत्या, इसका खुलासा होना अभी बाकी है. लेकिन उस घर से जो दस्तावेज मिले हैं, वो बेहद चौंकाने वाले हैं.

दरअसल, दिल्ली पुलिस को बुराड़ी इलाके के जिस घर में 11 शव मिले, वहां पुलिस खोजबीन में कुछ लिखित दस्तावेज मिले हैं. इन दस्तावेजों में जो बातें लिखी हैं वो बेहद चौंकाने वाली हैं. दस्तावेजों में बाकायदा पूरे परिवार की मौत की पटकथा लिखी हुई है. घर की छानबीन में पुलिस को ऐसे दो रजिस्टर बरामद हुए हैं, जिनमें ये हैरान करने वाली जानकारी लिखी हुई है. रजिस्टर में जैसे-जैसे लिखा हुआ है, ठीक उसी हालत में 10 शव घर के अंदर लटके मिले हैं, जबकि ग्यारहवां शव दूसरे कमरे में पड़ा मिला है.

पुलिस भी इस जानकारी से स्तब्ध हो गई है. जिसके बाद रजिस्टर में लिखी धार्मिक बातों और तांत्रिक क्रियाओं के आधार के एंगल से भी जांच की जा रही है. बता दें कि मामले की तफ्तीश दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच कर रही है. पुलिस का मानना है कि ये दस्तावेज निश्चित तौर पर रहस्यमय प्रथाओं के पालन की ओर इशारा कर रहे हैं.

रजिस्टर में लिखी हैं ये बातें

दिल्ली पुलिस सूत्रों के मुताबिक, घर से मिले रजिस्टर में हाथ से लिखा गया है. इनमें कुछ मोक्ष प्राप्ति की क्रियाएं बताईं गयी हैं. जैसे- ‘अगर आप स्टूल का इस्तेमाल करेंगे, आंखें बंद करेंगे और हाथ बांध लेंगे तो आपको मोक्ष की प्राप्ति होगी.’

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, दोनों रजिस्टर के करीब 35 पन्नों में शुरुआत के कुछ पन्नों में इस बात का जिक्र है कि किस शख्स को कहां-कहा खड़ा होकर लटकना है. यानी बाकायदा ये लिखा हुआ है कि परिवार के किस सदस्य को कहां लटककर जान देनी है. हैरान करने वाली बात ये भी है कि रजिस्टर में यह भी बताया गया है कि किस दरवाजे से किस शख्स को लटकना है.’

सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि घर से बरामद कागजों पर मौत की जो इबारत लिखी हुई है, बिल्कुल वैसे ही अंदाज में ये पूरा परिवार काल के गाल में समा गया. पुलिस जब घर के अंदर पहुंची तो रजिस्टर में लिखित निर्देशों के अनुसार ही शव लटके पाए गए हैं.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 75 साल की नारायणी देवी का शव अलग कमरे में पड़ा हुआ मिला. जबकि बेटे भवनेस और ललित के अलावा दोनों की पत्नी सविता और टीना और इनके बच्चे निधी, शिवम, मेनका व ध्रुव लोहे की जाली से लटके मिले. इनके अलावा 57 साल की प्रतिभा और उनकी बेटी प्रियंका जिसकी 17 जून को सगाई हुई थी, उनके शव खिड़की से लटके मिले. सूत्रों के अनुसार भवनेश और ललित के अलावा सभी के हाथ टाइट बंधे थे.

मंदिर के बगल में मिला रजिस्टर

दरअसल, बुराड़ी के संत नगर इलाके में जिस घर में ये परिवार रहता था, उसी के अंदर एक छोटा मंदिर बना हुआ है. पुलिस को जांच-पड़ताल के दौरान इस मंदिर के बगल से ही ये दोनों रजिस्टर बरामद हुए हैं. इनमें नवंबर 2017 से एंट्री करना शुरू की गई थीं, जबकि आखिरी बार इसी साल 25 जून को रजिस्टर में लिखा गया था.

रजिस्टर में लिखी अजीबोगरीब बातें

पुलिस को प्रथम दृष्टया जांच में पता चला था कि यह परिवार काफी धार्मिक प्रवृत्ति का है, ऐसे में रजिस्टर में लिखी बातें सही साबित हो सकती हैं. वहीं रजिस्टर में ऐसी छोटी-छोटी बातों का भी जिक्र है, जो अक्सर देखने-सुनने को नहीं मिलती हैं. मसलन, रजिस्टर में ये भी लिखा पाया गया है कि कान में कॉटन डालना है और मोबाइल फोन अलग रखना है. पुलिस को जांच में भी यही तस्वीर देखने को मिली है. पुलिस जांच के दौरान शवों के कान में कॉटन मिले हैं, जबकि मोबाइल फोन भी अलग पड़े पाए गए हैं.

परिवार को मोक्ष प्राप्ति की थी चाहत?

इन जानकारियों के आधार पर ऐसी आशंका जताई जा रही हैं कि पूरा परिवार किसी तरह के धार्मिक-आध्यात्मिक चक्कर में फंसा लग रहा है. आशंका ये भी है कि पूरे परिवार ने मोक्ष हासिल करने की कामना से कुछ खास धार्मिक रीतियों के चलते खुदकुशी की है. हालांकि, फोरेंसिक टीम को मिले सुराग से ये जानकारी भी सामने आ रही है कि परिवार के ही किसी सदस्य ने शेष सदस्यों की हत्या की और उसके बाद खुद भी आत्महत्या कर ली.

6 शवों के पोस्टमॉर्टम

फिलहाल पुलिस ने रविवार को ही सभी 11 शवों को बरामद कर लिया है, जिनमें से 6 का पोस्टमॉर्टम हो गया है. जबकि बाकी 5 शवों का पोस्टमॉर्टम सोमवार सुबह कराया जाएगा. पुलिस सूत्रों के अनुसार पोसमॉर्टम रिपोर्ट में प्रथम दृष्टया लटकने की वजह से मौत की बात सामने आ रही है. हालांकि, शवों पर संघर्ष के कोई निशान नहीं मिले हैं. वहीं, दूसरी तरफ ये जानकारी भी मिली है कि पूरे परिवार ने अपनी आंखें दान की हुई हैं.

loading...
शेयर करें