बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर घाटी में अलर्ट जारी, अमरनाथ यात्रा रोकी गई

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी की आज दूसरी बरसी के चलते प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। वहीं सुरक्षा एजेंसियों ने अलगावदियों के घाटी में बंद के ऐलान के मद्देनजर रविवार को अमरनाथ यात्रा स्थगित कर दी है। इससे करीब 1000 से अधिक श्रद्धालुओं को कठुआ में रुकना पड़ा, तो वहीं 15000 से ज्यादा यात्रियों को जम्मू, उधमपुर और रामबान जिले में रोका गया है। वहीं सुरक्षा कारणों को देखते हुए इंटरनेट सेवा को भी बंद कर दिया गया है।

घाटी में अलगावादियों ने बुलाया बंद

राज्य के पुलिस महानिदेशक एसपी वैद्य ने कहा कि हिजबुल के कमांडर बुरहान वानी की आज दूसरी बरसी है, ऐसे में अलगाववादियों ने आज घाटी में बंद का ऐलान किया है, ऐसे में अमरनाथ यात्रा को आज के लिए स्थगित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति अच्छी नहीं है और हमारी यह अहम जिम्मेदारी है कि श्रद्धालुओं की सुरक्षा का पूरा खयाल रखें। वैद्य ने कहा कि मेरी तीर्थयात्रियों से अपील है कि उन्हें घाटी की (कानून व्यवस्था की) स्थिति को ध्यान में रखकर हमारे साथ सहयोग करना चाहिए।

सुरक्षा के मद्देनजर रेड अलर्ट जारी

सुरक्षा एजेंसियों के सूत्रों की मानें तो हिज्ब आतंकी बुरहान वानी की बरसी पर आतंकी हमला हो सकता है। इसको देखते हुए जम्मू कश्मीर में श्रीनगर नेशनल हाईवे के 300 किलोमीटर के इलाके को रेड जोन चिन्हित कर अलर्ट जारी किया गया है। इससे पहले जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के अध्यक्ष यासीन मलिक को हिरासत में ले लिया गया, जबकि हुर्रियत कांफ्रेंस के नरमपंथी धड़े के प्रमुख मीरवायज उमर फारुक को उनके निगीन आवास पर नजरबंद कर दिया गया है।

इन इलाकों की इंटरनेट सेवा रोकी गई

अलर्ज के मद्देनजर सेना ने घाटी में सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया है। इस बीच शनिवार को दक्षिण कश्मीर के एक गांव में ऑपरेशन के दौरान भीड़ ने पथराव किया और सुरक्षाबलों द्वारा गोलीबारी में 16 वर्षीय किशोरी सहित तीन लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हुए। इस गोलीबारी से आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर घाटी में तनाव फैल गया। इस घटना के बाद दक्षिण कश्मीर के चार जिलों कुलगाम, शोपियां, अनंतनाग और पुलवामा में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर बंद कर दी गई है।

Related Articles