व्हाट्सएप (Whatsapp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर कारोबारियों ने लिखा केंद्र को पत्र, बोले देश की सुरक्षा को खतरा

नई दिल्ली : व्हाट्सएप (Whatsapp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी (New privacy policy) को लेकर खुदरा कारोबारियों ने सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) को पत्र लिखकर व्हाट्सएप और फेसबुक (Facebook) को बंद करने की मांग किए हैं। खुदरा कारोबारियों के संगठन अखिल भारतीय व्यापारी परिसंघ (confederation of all India traders) ने केंद्र सरकार (central government) से प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर चिंता जाहिर करते हुए इस पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है।

कैट ने सूचना एवं प्रौद्योगिकी मंत्री को पत्र लिखकर कहां है कि भारत (India) में फेसबुक (Facebook) के 20 करोड़ से अधिक उपयोग करता है, जिनका डेटा व्हाट्सएप (Whatsapp) की नई प्राइवेसी पॉलिसी से खतरे में है। सरकार व्हाट्सएप को नहीं प्राइवेसी पॉलिसी (New privacy policy) लागू करने से या तो रोके या तो व्हाट्सएप और फेसबुक को बंद करें। नहीं तो यह कंपनी यूजर्स का डेटा इस्तेमाल कर देश की सुरक्षा और अर्थव्यवस्था के लिए गंभीर चुनौती पैदा कर सकती है।

जाने क्या है व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी

अभी हाल ही में मार्क जुकरबर्ग (Mark zuckerberg) की कंपनी व्हाट्सएप (Whatsapp) ने अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी (New privacy policy) को अपडेट किया है, जो कि 8 फरवरी से लागू हो जाएगी। जिसमें उसने बताया है कि कैसे हो यूजर्स का डेटा फेसबुक (Facebook) के साथ शेयर करती है। इसके अलावा इस अपडेट में यह भी कहा गया है कि व्हाट्सएप का उपयोग आगे जारी रखने के लिए यूजर्स को 8 फरवरी तक नई शर्ते और नीतियों (New Terms and Policy) को हर हाल में स्वीकार करना ही होगा। जिसको को लेकर घमासान मचा हुआ है।

इसे भी पढ़े: येदियुरप्पा मंत्रिमंडल विस्तार का फैसला आज, 7 नए मंत्रियों को शामिल करने के संकेत

Related Articles