रोने से बेली फैट होगा कम, रोजाना इतने बजे और इतनी देर रोएं!

अगर आपको बात-बात पर रोना आता है, तो इसे गलत ना समझे. क्योंकि ऐसा करना आपकी सेहत के लिए बुरा नहीं, बल्कि अच्छा होता है. रोना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है. इससे हमारे शरीर का वजन कम होता है. जी, हां यह हम नहीं बल्कि शोध में इस बात का खुलासा हुआ है.

रिसर्च में खुलासा हुआ है कि रोने से मोटापा घटता है. इस रिसर्च में शोधकर्ता द्वारा बताया गया है कि रोने से हमारा अवसाद भी कम होता है.

रिसर्चकर्ताओं का कहना है कि इमोशनल होने से हमारा कोर्टिसोल स्तर बढ़ता है. जब हम इमोशनल होकर आंसू बहाते हैं, तो इससे हमारे शरीर का कोर्टिसोल का स्तर बढ़ता है, जिससे इससे शरीर का वजन थोड़ा कम होता है.

यह शोध ‘एशियावन’ में प्रकाशित किया गया है. रिसर्च में कहा गया है कि रोने से शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थ निकल जाते हैं.  इस सिद्धांत का समर्थन जैव रसायनविज्ञानी विलियम फ्राय ने किया है.

रिसर्च में दावा किया गया है कि शाम 7 बजे से लेकर 10 बजे के बीच रोने से शरीर का वजन कम होता है. वजन कम करने के लिए रोने  का ये सबसे सही समय है.

रिसर्च में बताया गया है कि जब हम अपनी आंखों से आंसू बहाते हैं, तो हमारा शरीर फैट को स्टोर नहीं रख पाता है. क्योंकि ऐसे में हमारे शरीर में जो भी तनाव पैदा करने वाले हार्मोन्स होते हैं, वे निकल जाते हैं.

हां, लेकिन यदि आप बेवजह रोते हैं, तो इससे शरीर का वजन कम नहीं होता. वजन कम करने के लिए रोने के दौरान सच्ची भावनाएं होनी चाहिए. यदि आपकी सच्ची भावनाएं नहीं है, तो आपका वजन कम नहीं होगा.

Related Articles