उपचुनाव: महंगे तेल में फिसल गई भाजपा, मंडी में कांग्रेस ने मारी बाजी

 

शिमला: भारती जनता पार्टी को इस बार बड़ा झटका लगा है, हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने मंडी लोकसभा उपचुनाव के साथ-साथ सभी तीन विधानसभा क्षेत्रों अर्की, फतेहपुर और जुब्बल-कोटखाई में 30 अक्टूबर को हुए उपचुनाव में जीत हासिल की।

कारगिल युद्ध के नायक ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) भाजपा के खुशाल ठाकुर राज्य की मंडी संसदीय सीट पर कांग्रेस की प्रतिद्वंद्वी प्रतिभा सिंह से हार गए। प्रतिभा सिंह दिवंगत मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की विधवा हैं।

हिमाचल प्रदेश में मंडी लोकसभा और तीन विधानसभा सीटों फतेहपुर, अर्की और जुब्बल-कोटखाई के लिए हाल ही में हुए उपचुनाव के लिए वोटों की गिनती कड़ी सुरक्षा के बीच जारी है।

राज्य की सत्तारूढ़ भाजपा फतेहपुर और जुब्बल-कोटखाई सीटों पर पीछे चल रही है। बाद की सीट पर, मुख्य मुकाबला भाजपा के बागी और निर्दलीय चेतन ब्रगटा और कांग्रेस के रोहित ठाकुर के बीच है। भाजपा प्रत्याशी नीलम सरेक भारी अंतर से पीछे चल रही हैं। ब्रगटा पूर्व बागवानी मंत्री स्वर्गीय नरेंद्र ब्रगटा के पुत्र हैं।

वास्तव में यह पूरा चुनाव मुख्यमंत्री और हिमाचल प्रदेश भाजपा के जिम्मे था। केवल टिकट आवंटन में आलाकमान की छाप थी। मंडी में भाजपा को अपने काम और मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर भरोसा था और कांग्रेस को वीरभद्र सिंह के प्रति सहानुभूति के साथ यह भी विश्वास था कि भाजपा तेल में फिसल जाएगी। तेल खाने वाला हो या डीजल और पेट्रोल।

Related Articles