योगी के मंत्री के भाषण में ही खुल गई योगी के दावों की पोल…

0

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दावों एक बार फिर फेल होते नजर आ रहे हैं। दरअसल, इस बार यह गाज गिरी है सीएम योगी के 24 घंटे बिजली मुहैया कराने के दावे पर। जी हां सीएम योगी के दावों की पोल उस वक्त खुली जब मथुरा में पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन शताब्दी दिवस के अवसर पर आयोजित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण भाषण दे रहे थे। उनके भाषण के दौरान अचानक बिजली चली गई और उन्हें तीन मिनट तक अंधेरे में ही भाषण देना पड़ा। हालांकि अंधेरे में भी कैबिनेट मंत्री योगी सरकार का गुणगान करने से पीछे नहीं हटे।

दरअसल, यूपी सरकार के आबकारी मंत्री जयप्रताप ने बगावती तेवर अपनाते हुए बिजली सप्लाई पर एक पत्र लिखकर योगी आदित्यनाथ के दावों की पोल खोल दी थी। यह चिट्ठी आम होने के बाद से यूपी सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई है।

चिट्ठी में जयप्रताप में लिखा है कि आपके संज्ञान में लाना चाहूंगा कि जनपद सिद्धार्थनगर की विद्युत आपूर्ति पूर्ण रूप से ध्वस्त हो गई है। आपके और माननीय मुख्यमंत्री जी के निर्देशों के बावजूद भी विद्यत आपूर्ति में कोई सुधार नहीं हो सका है। निरंतर स्थिति खराब होती जा रही है। ग्रामीण क्षेत्र और शहरी क्षेत्र सभी में विद्युत आपूर्ति लगातार बाधित रहने के कारण जनपद की जनता में काफी रोष है। जिससे सरकार की छवि भी धूमिल हो रही है।

आपको बता दें कि भाजपा सत्ता में आने से पहले ही प्रदेश की बिजली संकट को दुरुस्त करने के दावे किये थे और सत्ता के आने के बाद भी कई मौकों पर इसको लेकर कई बड़े दावे किये हैं। हालांकि प्रदेश में फैला बिजली संकट टलने का नाम ही नहीं ले रही है।

loading...
शेयर करें