Cadila सितंबर महीने में लॉन्च करेगा ZyCoV-D , जानिए क्यों हैं यह वैक्सीन खास

पुणे : इंडियन फार्मास्युटिकल कंपनी जायडस Cadila की कोरोना वैक्सीन जायकोव-डी को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की इस वैक्सीन को लगवाने में न सुई का इस्तेमाल होगा और न ही दर्द होगा। कंपनी ने कहा है कि वो इसे सितंबर महीने में लॉन्च करने की तैयारी में है।

Cadila की इस वैक्सीन के नहीं होंगे साइड इफेक्ट्स

इस कड़ी में बयान जारी करते हुए जायडस कैडिला के मैनेजिंग डायरेक्टर शर्विल पटेल ने कहा है कि हम इसे जल्द से जल्द लॉन्च करने की तैयारी में हैं। वैक्सीन की कीमत पर बात करते हुए पटेल ने कहा कि कंपनी रेगुलेटर के साथ कम कर रही है। अगले एक-दो हफ्ते में कीमत तय होने की उम्मीद है। पटेल ने आगे कहा कि वैक्सीन की कीमत तकनीकी, डिलीवरी और वॉल्यूम पर निर्भर करेगी हालाँकि हमारे पास इसकी बेंचमार्क प्राइसिंग भी है। इस कड़ी में बोलते हुए  पटेल ने कहा कि कंपनी दिसंबर के आखिरी तक वैक्सीन  की चार करोड़ डोज और जनवरी के अंत तक करीब पांच करोड़ सप्लाई करने का लक्ष्य बना रही हैं।

इस  कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की जायडस कैडिला की कोरोना वैक्सीन कई मायनों में खास है। इसकी एक या दो नहीं बल्कि तीन डोज लेनी होगी। साथ ही यह नीडललेस है। मतलब इसे सुई से नहीं लगाया जाता।

यह भी पढ़ें : केंद्र चाहता है कि हम writing में दें कि ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई कोई मौत

Related Articles