सड़कों को गड्ढामुक्त करने का अभियान युद्ध स्तर पर: लाेनिवि

विभाग के प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि गड्ढामुक्त अभियान में विभिन्न त्योहारों पर जगह जगह लगने वाली भीड़ के मद्देनजर उन सड़कों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा कराया जा रहा है,

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण विभाग का दावा है कि चालू वित्तीय वर्ष में विभाग के अधीन 56700 अधिक लंबाई में मार्गों को गड्ढायुक्त के रूप में चिन्हित किया गया है ,जिसमें से 27000 किलोमीटर से अधिक सड़कों को गड्ढामुक्त किया जा चुका है.

विभाग के प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि गड्ढामुक्त अभियान में विभिन्न त्योहारों पर जगह जगह लगने वाली भीड़ के मद्देनजर उन सड़कों को प्राथमिकता के आधार पर पूरा कराया जा रहा है, जहां पर त्योहारों के दृष्टिगत बहुत जरूरी है. गड्ढामुक्त सड़कों करने के कार्य के अलावा लगभग 20500 किलोमीटर से अधिक लम्बाई मे मार्ग के नवीनीकरण किये जाने के लिये वित्तीय स्वीकृतियां निर्गत की जा चुकी है, जिसके सापेक्ष 4500किलोमीटर से अधिक सड़कों को नवीनीकृत भी किया जा चुका है.

उन्होने बताया कि वर्ष 2019-20 में 52121 किलोमीटर लंबाई मे सड़कों को गड्ढामुक्त किया गया और 23000 किलोमीटर से अधिक लंबाई की मार्गो को नवीनीकृत भी किया गया है. इसी तरह 2018-19 में लगभग 44376 किमी लंबाई में मार्गों को गड्ढामुक्त कराने के साथ-साथ 20100 किमी से अधिक लम्बाई मे मार्गों को नवीनीकृत किया गया.

गौरतलब है कि वर्ष 2017 -18 में प्रदेश सरकार के गठन के उपरांत प्रदेश की सड़कों को गड्ढामुक्त करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया और सभी विभागों की लगभग 358000 किलोमीटर सड़कों में से 107000 किलोमीटर सड़कें तत्समय गड्ढायुक्त पाई गई थी, जिन्हें गड्ढामुक्त करने हेतु अभियान चलाया गया था.

लोक निर्माण विभाग की 235000 किलोमीटर लंबाई की सड़कों में से 85160 किलोमीटर लंबाई मे सड़कें गड्ढायुक्त पायी गयीं, जिन्हें निर्धारित समय गड्ढामुक्त कर दिया गया था, साथ ही साथ लगभग 37,000 किमी० मार्गो को नवीनीकृत किया गया था.

उपमुख्यमंत्री ने दिए निर्देश

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सड़कों के गड्ढामुक्त कार्य को शीघ्र से शीघ्र पूरा किया जाए तथा कार्यों की गुणवत्ता पर व मानको पर विशेष नजर रखी जाए.

यह भी पढ़े: यूपी में शराब की दुकानों का बदला समय, अब रात 10 बजे तक होगी बिक्री

Related Articles

Back to top button