क्या Corona Vaccine से हो सकता है बांझपन और नपुंषकता है खतरा? जानें पूरी सच्चाई

Corona Vaccine को लेकर सोशल मीडिया पर अलग- अलग तरह की अफवाहें फैलाए जा रहें है।

नई दिल्ली: Corona Vaccine को लेकर सोशल मीडिया पर अलग- अलग तरह की अफवाहें फैलाए जा रहें है। ऐसे में अफवाहों में आकर देश में बड़ी आबादी Vaccine लेने से कतरा रही है। हालांकि सोशल मीडिया पर कोरोना की वैक्सीन को लेकर किए जा रहे इन दावों की पुष्टि का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है। एक ऐसे ही अफवाह में कहा जा रहा है कि वैक्सीन लगवाने से पुरुषों और महिलाओं में बांझपन की समस्या हो सकती है। हालांकि इस अफवाह को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि वैक्सीन लगवाने से पुरुष व महिलाएं बांझपन का शिकार होंगी इसका कोई भी वैज्ञानिक आधार नहीं है। वैक्सीन पूरी तरह प्रभावी और सुरक्षित है।

मंत्रालय के मुताबिक बीते कुछ दिनों से मीडिया में आई कुछ खबरों में नर्सों समेत स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंट लाइन कर्मचारियों के एक वर्ग में अलग अलग अंधविस्वासों और मिथकों की व्यापकता को उजागर किया गया है। पोलियो और खसरा-रूबेला के खिलाफ टीकाकरण के अभियान के दौरान भी इस तरह की गलत सूचना और अफवाहें फैलाई गई थीं।

कोरोना वैक्सीन

 

प्रजनन की क्षमता को प्रभावित

मंत्रालय ने वेबसाइट पर पूछे गए सवाल के जवाब में स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना से निपटने के लिए मौजूद टीकों में कोई भी टीका प्रजनन की क्षमता को प्रभावित नहीं करता है। इन टीकों का ट्रायल पहले जानवरों पर करके देखा जाता है कि इन टीकों का कोई दुष्प्रभाव तो नहीं है। इसके बाद ही सुरक्षित पाए जाने पर टीकों को इंसानों पर इंस्तेमाल करने की मंजूरी दी जाती है।

यह भी पढ़ें: नोएडा अथॉरिटी की गलती को लोगों ने किया ट्रोल, मिल्खा सिंह को नहीं पहचानने का लगाया आरोप

Related Articles