#2016 कर्क राशि वालों के लिए जोश में होश न खोने का समय

Z4चौथी राशि कर्क अर्थात कैंसर है। साल 2016 के पहले दिन अर्थात शुक्रवार 1 जनवरी को प्रातः 6 बजे की कुंडली के अनुसार चंद्रमा अपने शत्रु बुध की राशि कन्या में व सूर्य के नक्षत्र उत्तराफाल्गुनी में गोचर करेगा तथा राहू के साथ बैठकर ग्रहण योग का निर्माण करेगा। साल के शुरु से ही शनि वृश्चिक व गुरू सिंह में गोचर कर रहे हैं। रविवार 31 जनवरी से राहु सिंह में व केतू कुंभ में प्रवेश करेंगे। इसी कारण वाणी के दूषित होने की भी संभावनाएं प्रबल हैं। आप कई बार नियंत्रण खो देंगे व क्रोध अधिक करेंगे जो समस्याओं को अधिक बल देगा। आपका पराक्रम बढ़ा रहेगा, अधिक से अधिक कार्य करने का जोश रहेगा। अति उत्साह आपका सकारात्मक पक्ष रहेगा परंतु नकारत्मक पक्ष भी रहेगा। अतः कोई भी निर्णय अति उत्साह में न करें, हानि होने की संभावनाएं हैं।

स्वास्थ्य

आपका स्वास्थ्य गुरु व शनि के गोचर पर निर्भर करती है। साल 2016 के शुरु से ही शनि आपकी राशि से पंचम राशि वृश्चिक व गुरू द्वितीय राशि सिंह में गोचर कर रहे हैं। इसी कारण आपको जलीय जंतु व विषैले जीवों से खतरा हो सकता है अतः सावधान रहें। गहरे पानी से दूर रहें। ऐसे पर्यटन स्थलों पर न जाएं जहां पानी गहरा हो। इस साल आपको शनि के कारण उदर तथा आंतों के इन्फ़ैकशन हो सकते हैं। गुरु के कारण आपको नेत्र संबंधी कुछ दिक्क़तें आ सकती हैं। गर्भवती महिलाओं को विशेष सतर्कता बरतनी होगी। संतान पर कष्ट के योग हैं अतः सावधान रहें व स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही न बरतें। अच्छी सेहत हेतु दिन के समय दूध का ज्यादा से ज्यादा सेवन करें व जंक फूड लेने से बचें।

परिवार

शनिदेव को आपके राशि के स्वामी चंद्रदेव का सबसे बड़ा शत्रु माना जाता है। चंद्रमा व शनि की शत्रुता का सीधा प्रभाव आपके मैरिड लाइफ पर पड़ सकता है। अन्य फ़ैमिली मेंबर्स के कारण डिस्प्यूट्स बढ़ सकते हैं परंतु मैरिड लाइफ में पार्टनर के साथ संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी। परंतु अन्य फ़ैमिली मेंबर्स के बीच दूरियां बढ़ सकती हैं। कभी-कभी आप अपने आपको उलझन में पाएंगे और अपनी ही कही गई बातों में उलझ जाएंगे इसलिए जहां तक हो सके किए हुए वादों को निभाने का प्रयास करें।

रोमांस

कर्क राशि के प्रेमियों के लिए यह साल बहुत शुभ व फलदाई होने वाला है। नए संबंध बनेंगे व पुराने संबंधों में मज़बूती आएगी परंतु यह ध्यान रहें की आपको स्थिर रिश्तों की तरफ़ ध्यान देना होगा व उसे सुदृढ़ बनाने का प्रयास भी करना होगा। चंचल मन के कारण आपके रिश्ते ज़्यादा दिन तक नहीं टिकते हैं व आपकी असामान्य पार्टनर की चाहत के चलते भिन्न स्तर के व्यक्ति के साथ भी संबंध स्थापित हो सकते हैं।

साल 2016 में विवाह योग्य कुंवारों के लिए वैवाहिक बंधन में बंधने के लिए शुभ समय है। यदि आप लव मैरेज करना चाहते हैं तो भी वर्ष 2016 आपके लिए शुभ संकेत दे रहा है। केवल नए संबंधों में थोड़ी सतर्कता बरतने की आवश्यकता है, क्योंकि परिणाम अच्छे नहीं भी हो सकते हैं।

रूपया पैसा

आपकी राशि के लिए सिंह राशि आपके धन क्षेत्र को संबोधित करती है। साल के प्रारंभ से ही आपके भाग्येश गुरु धन भाव में विराजमान हैं परंतु रविवार 31 जनवरी से राहु सिंह में प्रवेश करेगा अर्थात छाया ग्रह राहु आपके धन भाव में 18 महीने के लिए गोचर करेगा। आपके धन स्थान पर राहु व गुरु की युति गुरु-चांडाल योग को जन्म दे रही है। धन हानि के योग बने हुए हैं। घड़े में छेद जैसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। आपको अत्यधिक सावधान रहने की ज़रूरत है। आपके ख़िलाफ़ साजि़श रची जा सकती है।

करियर

करियर व आजीविका के दृष्टिकोण से यह साल 2016 आपको सफलता दिलाने वाला रह सकता है। इस साल बिजनेसमैन को अप्रत्याशित प्रोफिट मिल सकता है। परंतु सर्विसमैन के लिए कुछ परेशानियां जन्म ले सकती हैं। बृहस्पति व राहु की युति दूसरे भाव में बन रही है व दोनों की दृष्टि दसवें घर पर भी पड़ रही है। आपकी सफलता क्रोध व अहंकार को जन्म दे सकती है। आपके प्रतिस्पर्धी आपकी नक़ल करने का प्रयास करेंगे, पर वे पूरी तरह से असफल रहेंगे। जूनियर्स से तर्क-वितर्क होने की संभावना बनी हुई है, इसलिए ऑफिशियल मैटर्स को लेकर अत्यधिक सावधानी बरतने की ज़रूरत है। नई नौकरी के लिए समय अच्छा बन हुआ है। इंतज़ार कर रहे कुछ लोगों को प्रमोशन भी मिल सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button