RBI के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन बोले – किसी को ‘राष्ट्र विरोधी’ बताकर चुप नहीं कराया जाए

0

कोच्चि। आरबीआई के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन ने बड़ा बयान दिया है। राजन ने कहा कि यदि अमेरिका और चीन के बीच व्यापार युद्ध तेज होता है, तो वैश्विक अर्थव्यवस्था में आ रहा सुधार प्रभावित होगा। उन्होंने कहा, यहां माहौल काफी चिंताजनक है। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय ऐसे ‘सुरक्षित स्थल’ होने चाहिए जहां बहस और चर्चाएं चलती रहें और किसी को भी ‘राष्ट्र विरोधी’ बताकर चुप नहीं कराया जाए।

आरबीआई के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन

ग्लोबल डिजिटल समिट को संबोधित करते हुए राजन ने बातें कहीं

केरल सरकार द्वारा कोच्चि में आयोजित ग्लोबल डिजिटल समिट को संबोधित करते हुए राजन ने बातें कहीं। मुझे लगता है कि हमें इसे हलके में नहीं लेना चाहिए। राजन ने कहा, मैं उम्मीद करता हूं कि बेहतर समझ बनेगी और हम एक देश द्वारा पूर्ण प्रक्रिया करने और दूसरे द्वारा उस पर प्रतिक्रिया देने से बाहर निकलेंगे। राजन ने कहा कि विश्वविद्यालयों में हर किस्म के विचार प्रवाह को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

हमें ऐसा करने के तरीकों का पता लगाना होगा

आरबीआई के पूर्व गर्वनर रघुराम राजन ने कहा, हमारे पास अभी सबसे बड़ा मुद्दा यह है कि हम भारत में नौकरियां कैसे पैदा कर सकते हैं? हमें लोगों को कृषि से उद्योग और सेवाओं में स्थानांतरित करने की क्षमता का प्रयास करना चाहिए, जहां आय बहुत अधिक है। हमें ऐसा करने के तरीकों का पता लगाना होगा। इसके साथ ही रघुराम राजन ने कहा कि वह ट्विटर पर इसलिए नहीं हैं, क्योंकि वह 30 सेकेंड में कुछ शब्दों में ट्वीट का जवाब नहीं दे सकते हैं।

loading...
शेयर करें