सावधान! अब सड़क पर कूड़ा फैलाना और थूकना पड़ सकता है भारी, मिलेगी ये सजा

0

देहरादून। उत्तराखंड को स्वच्छ बनाने के लिए अब नगर निगम के साथ राज्य पुलिस भी आगे आई है। दरअसल, अब नगर निगम के बाद पुलिस ने भी तय किया है कि सड़क, नाली व सार्वजनिक स्थलों में कूड़ा फेंकने व थूकने के चलते वह भी चालान की कार्रवाई कर जुर्माना वसूलेगी। यही नहीं, अगर कोई यह सब करता पाया गया तो उसे 5000 रुपये जुर्माना भरना होगा।

Image result for सड़क पर कूड़ा फैलाना और थूकना

इसके अलावा छह महीने की सजा का भी प्राविधान है। बताते चलें, सरकार अब कूड़ा फेंकना व थूकना प्रतिषेध अधिनियम 2016 को लेकर हरकत में आ गयी है। इस अधिनियम को प्रभावी रूप से लागू करने के लिए प्रशासन ने मन बना लिया है।

यही कारण है कि इस एक्ट को प्रभावी तौर से क्रियान्वयन करने के लिए नगर आयुक्त, एसडीएम सदर, अपर नगर आयुक्त, सहायक नगर आयुक्त, वरिष्ठ नगर स्वास्थ्य अधिकारी, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, कर अधीक्षक, सफाई निरीक्षक, कर निरीक्षक के अलावा नगर क्षेत्र के सभी थापा/ चौकी प्रभारी को प्राधिकृत अधिकारी नामित किया गया है। इसका मतलब ये हुआ कि इन अधिकारियों में से अब कोई किसी को गंदगी फैलाते या थूकते पता है तो वो 5000 रुपये जुर्माना ले सकता है।

loading...
शेयर करें