मथुरा के एक मंदिर में नमाज पढ़ने पर 4 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

उत्तर प्रदेश: मथुरा में स्थित एक मंदिर में दो व्यक्तियों द्वारा नमाज पढ़ने का मामला सामने आया है। मंदिर प्रसाशन के लोगों ने बरसाना थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई है। मंदिर में रहने वाले लोगों का कहना है कि दो लोगों ने मंदिर प्रांगण में आकर सबसे छुपकर नमाज पढ़ी है और फिर उसका फोटो खींच कर सोशल मीडिया पर डाल दिया।

तीन धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज

यह घटना मथुरा के नंद बाबा मंदिर का है जहां पर दो लोगों के मंदिर में नमाज पढ़ने से विवाद खड़ा हो गया है। इस शिकायत के आधार पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 153A, 295, 505 के तहत चार लोगों पर मुकदमा भी दर्ज कर लिया है।
लोगों का आरोप है कि 29 अक्टूबर को मंदिर में चार लोग आए दो ने मंदिर के सेवायतों को गुमराह कर मंदिर प्रांगण में ही नमाज अदा की

लोगों में हिंसा की भावना फैलने का खतरा

मंदिर द्वारा किए गए शिकायत के अनुसार इस तरह से बिना इजाजत के मंदिर के अन्दर नमाज अदा कर उसकी फोटो को सोशल मीडिया पर डालने से हिन्दु धर्म के लोगों की धार्मिक भावना को ठेस पहुंची है और उनकी आस्था आहत हुई है। मंदिर प्रशासन का कहना है कि इस तरह का व्यवहार करके उन्होनें दो धर्मों के बीच मतभेद पैदा करने की कोशिश की है, हिन्दु भावना को आहत किया है और सोशल मीडिया पर फोटो डालकर लोगों के मन में नफरत और हिंसा की भावना पैदा करने की कोशिश की है।

प्रशासन का आरोप है कि कहीं ये लोग फोटो का दुरूपयोग ना करें और हो सकता है ये किसी संगठन से जुड़े हुए हों और इनकी फंडिंग विदेशी संगठनों से हो रही हो। गौरतलब है कि इस वाक्ये के बाद पूरे मंदिर प्रांगण को गंगाजल से साफ किया गया और मंदिर में हवन करके मंदिर को शुद्ध किया गया।

कृष्ण मंदिर और शाही ईदगाह मस्जिद मामला

बताते चलें कि यह मामला तब सामने आया है जब मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि और उसके पास मौजूद मस्जिद का मुद्दा अदालत के सामने पेश किया गया है। मथुरा जिला अदालत में कृष्ण जन्मभूमि के पास स्थित शाही ईदगाह मस्जिद को जन्मभूमि के पास से हटाने के लिए याचिका दायर की गई है। इस मुकदमें पर नवंबर में सुनवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: नीतीश सरकार की विदाई तय, सत्ता में आते ही देंगें दस लाख नौजवानों को नौकरी : तेजस्वी

Related Articles

Back to top button