सीएम शिवराज का फर्जी वीडियो पोस्ट करने के आरोप में दिग्विजय सिंह के खिलाफ केस दर्ज

भोपाल: भोपाल पुलिस की क्राइम ब्रांच शाखा ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सहित बारह लोगों पर फर्जी वीडियो बनाकर प्रसारित करने के आरोप में केस दर्ज किया है. दिग्विजय को मानहानि कूट रचना समेत साइबर ऐक्ट की अन्य धाराओं में आरोपी बनाया गया है. दिग्विज सिंह ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का एक पुराना वीडियो ट्वीट किया था.

वीडियो से छेड़छाड़ कर पोस्ट करने का आरोप

इस मामले में रविवार 14 जून की रात को बीजेपी नेताओ ने पुलिस में शिकायत की थी. शिवराज सिंह का 21 जनवरी 2020 के एक वीडियो में छेड़छाड कर उसे छोटा कर दिग्विजय सिंह के ट्विटर हैंडल से रविवार को पोस्ट किया गया था, जिसे बाद में हटा लिया गया था.

इस वीडियो में शिवराज कथित तौर पर कहते दिखते हैं कि ‘खूब शराब पिलाओ कि लोग पड़े रहें’. इस वीडियो को रीट्वीट करने वाले 11 लोगों को भी आरोपी बनाया गया है.

उधर दिग्विजय सिंह ने रविवार को ही इसे हटा लिया था. इस वीडियो में काट-छांट कर शिवराज को शराब समर्थक बताया जा रहा है, जबकि बीजेपी ने इसका असल वीडियो भी जारी किया है.

बीजेपी पर हमलावर हुए दिग्विजय

वहीं सोमवार को दिग्विजय सिंह ने बीजेपी पर ही हमलावर रुख अपनाया और कहा कि आदिवासियों का प्रकरण उठाने के कारण बीजेपी घबरा गई और उनके खिलाफ केस दर्ज कराया.

दिग्विजय ने ट्वीट कर लिखा, “मैंने शिवराज सिंह चौहान के इलाके में आदिवासियों को ठगने का प्रकरण उठाया था, उसी से डरकर बीजेपी ने मेरे खिलाफ केस दर्ज कराया है. मैं मांग करता हूं कि चिटफंड कंपनी के खिलाफ दर्ज FIR की तत्काल जांच हो. फर्जी वीडियो में जांच करानी ही है तो उसकी कराएं जिसने ये फर्जी वीडियो बनाया है.”

Related Articles