डॉ कफील पर रासुका के तहत मुकदमा दर्ज, जमानत की कोई गुंजाइश नहीं

0

अलीगढ़:मुस्लिम विश्वविद्यालय अलीगढ़ में विवादित बयान देने के मामले में डॉ कफील पर रासुका के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। जिसमे जमानत के कोई साक्ष्य दिखाई नहीं दे रहे है। विवादित बयान देने के मामले में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई करते हुए सिविल लाइंस में यह मुकदमा दर्ज किया गया है।

मुस्लिम विश्वविद्यालय अलीगढ़ में नागरिकता कानून को लेकर योगेंद्र यादव के साथ मिलकर डॉ कफील ने विवादित बयान दिया। कफील के इस बयान को लेकर सिविल लाइंस थाने उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। उसी मुकदमे के चलते उन्हें मुंबई से गिरफ्तार किया गया, जिसके बाद से वह जेल में हैं।

कफील को इस मामले में 10 फरवरी को जमानत मिल गई थी, लेकिन कुछ कारणों के कारण रिहाई नहीं हो पाई थी। जिसे लेकर हर रोज रिहाई की उम्मीद जताई जा रही थी, लेकिन अब जिला प्रशासन ने सिविल लाइंस में डॉ. कफील के खिलाफ रासुका के तहत मुकदमा लिख दिया है, रासुका के तहत मुकदमा लिख जाने के बाद अब रिहाई संभव नहीं है।
loading...
शेयर करें