पक्षियों को बचाने के लिए बैन होने जा रही बिल्लियां, जानिए वजह

0

न्यूजीलैंड। ये तो हम सभी जानते है कि जिस तरह हम कुत्ते को पालते हैं उसी तरह बिल्लियों को भी पालते है। बि‍ल्ली को करीब 10 हजार वर्ष पहले अफ्रीकी जंगली बिल्ली से पालतू बनाया गया था। इसके बाद एक बार घर में आई तो घरेलू बनकर रह गई। लेकिन हाल ही में खबर आई है कि एक गांव में बिल्लियां बैन होने वाली हैं।दरअसल न्यूजीलैंड  के Omaui गांव में बिल्लियों को बैन करने का फैसला किया गया है। बता दे कि इसकी असली वजह हैरान करने वाली है क्योंकि वहां के पशु- पक्षियों को बिल्लियां मार डालती थी जिससे उनकी प्रजातियां कम होने लगी थी, और इसके साथ ही उनके गांव की रौनक भी विलुप्त हो रही थी इसलिए बिल्लियों पर बैन लगाया जा रहा है। गांव में रहने वाले नीको जार्विस के पास भी कई बिल्लियां हैं। उनका कहना है- ”मैं यहां अकेला रहता हूं, इसलिए मैं बिल्लियों के साथ रहता हूं, अगर बिल्लियां नहीं रहेंगी तो मैं घर में नहीं रह पाऊंगा.”

इसके आलावा जिनके पास बिल्ली है, वो उनके पास ही रहेंगी। लेकिन उनके मरने के बाद बिल्ली को पालना नामुमकिन हो जाएगा गांव में करीब 35 लोगों ने 7 से 8 बिल्लियां पाली हैं बता दें, न्यूजीलैंड में पक्षियों की तादाद काफी ज्यादा है। यहां 4 हजार से ज्यादा नुकसान न पहुंचाने वाले क्रिएचर्स हैं। नेशनल आइकन भी किवी है एक्सपर्ट्स का कहना है कि न्यूजीलैंड में कई ऐसी पक्षियों की प्रजातियां हैं जो सिर्फ इसी देश में पाई जाती हैं।

loading...
शेयर करें