IDBI बैंक द्वारा धोखाधड़ी के आरोपों को लेकर CBI ने मुंबई की कंपनी के खिलाफ दर्ज की शिकायत

मुंबई: केंद्रीय जांच ब्यूरो ने सोमवार को IDBI बैंक की शिकायत पर मुंबई की एक कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज किया। टॉप वर्थ स्टील्स एंड पावर प्राइवेट लिमिटेड, और इसके निदेशक सुरेंद्र चंपलाल लोढ़ा, अभय नरेंद्र लोढ़ा, अश्विन नरेंद्र लोढ़ा, नितिन गोलचा और अज्ञात सार्वजनिक और निजी व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। IDBI की शिकायत के मुताबिक गिरफ्तार किए गए लोगों ने बैंक से 2014 और 2016 के बीच 63.10 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की है।

बैंक को ठगने की मंशा से आरोपी ने सभी ऋण सुविधाओं, साख पत्र, व्यापार साख, बैंक गारंटी, नकद ऋण सीमा, बैंक दावों में गलती की। विभिन्न अनियमितताओं के कारण उधारकर्ता कंपनी के खाते को एनपीए (नॉन-परफॉर्मिंग एसेट्स) घोषित किया गया है। इससे बैंक को 63.10 करोड़ का नुकसान हुआ है। CBI ने मुंबई, नागपुर, छत्तीसगढ़ समेत 9 जगहों पर छापेमारी कर आरोपितों के हाउस ऑफिस से सारे सबूत और दस्तावेज बरामद किए।

यह भी पढ़ें: टिकैत का सरकार को नया ultimatum, 27 नवंबर से किसान करेंगे दिल्ली का घेराव

Related Articles