करोड़ों रुपये के घोटाले में पूर्व मंत्री रोशन बेग के घर पर CBI की छापेमारी

बेंगलुरु: केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के अधिकारियों ने कर्नाटक के पूर्व मंत्री रोशन बेग को आई-मोनेटरी एडवाइजरी के करोड़ों रुपये घोटाले के मामले में गिरफ्तार करने के बाद सोमवार सुबह उनके घर पर छापेमारी की है।

CBI के मुताबिक अदालत से सर्च वारंट लेकर सोमवार को 10 से अधिक अधिकारियों की एक टीम ने पूर्व मंत्री के घर पर छापेमारी की। इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स और दस्तावेजों का सत्यापन किया जा रहा है। मामले में छानबीन जारी है और परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ की जा रही है। पुलिस हिरासत के लिए उन्हें कोर्ट में भी पेश किया गया है।

फिलहाल रोशन बेग न्यायिक हिरासत में हैं और परप्पाना अग्रहारा सेंट्रल जेल के क्वारंटी सेल में बंद हैं। पिछले साल जून में आई-मोनेटरी एडवाइजरी के करोड़ों रुपये घोटाले के मामले में उनका नाम सामने आया था। सीबीआई को मामला सौंपे जाने से पहले राज्य सरकार द्वारा गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) ने उनसे पूछताछ की थी।

गौरतलब है कि एक विशेष जांच अधिकारी ने हाल ही में घोटाले के पीड़ितों के दावों की पुष्टि करते हुए राजस्व विभाग को लिखे पत्र में कहा था कि रोशन बेग आई-मोनेटरी एडवाइजरी के प्रमोटर हैं और यह एक व्यवसाय है। जांच में आई-मोनेटरी एडवाइजरी के प्रमुख मोहम्मद मंसूर खान के साथ उनके संबंध का भी खुलासा हुआ था। इस मामले में जांच एजेंसी सरकारी अधिकारियों समेत कुछ आरोपियों के खिलाफ पहले ही चार्जशीट दायर कर चुकी है।

यह भी पढ़ें: रणदीप सुरजेवाला का सरकार पर हमला, श्रमिकों को ‘आर्थिक गुलामी’ में धकेल रही है सरकार

Related Articles