जेल में हुई अंकित गुर्जर हत्याकांड की जांच करेगी CBI, HC का आदेश

बीते अगस्त माह में तिहाड़ जेल के अंदर पीट-पीटकर कैदी अंकित गुर्जर की हत्या कर दी गई थी। इस बाबत जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट सहित चार लोगों के खिलाफ हरि नगर थाने में FIR भी दर्ज की गई है।

नई दिल्ली: तिहाड़ जेल में हुई अंकित गुर्जर की हत्या के मामले की जांच CBI द्वारा की जाएगी। दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने इस मामले में CBI को जांच सौंपने के आदेश दिया है। बीते अगस्त माह में तिहाड़ जेल के अंदर पीट-पीटकर कैदी अंकित गुर्जर की हत्या कर दी गई थी। इस बाबत जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट सहित चार लोगों के खिलाफ हरि नगर थाने में FIR भी दर्ज की गई है।

अंकित का जेल प्रशासन से हुआ विवाद

जानकारी के अनुसार बागपत का रहने वाला अंकित गुर्जर हत्या के मामले में तिहाड़ जेल में बंद था। उसके खिलाफ हत्या और लूट जैसे संगीन मामले दर्ज थे। उसे तिहाड़ जेल संख्या तीन में बीते एक साल से रखा गया था। बीते 3 अगस्त की रात जेल में कुछ अधिकारियों ने जेल में तलाशी ली थी। इस दौरान अंकित गुर्जर के पास से एक मोबाइल मिला था। इसे लेकर जेल अधिकारी ने अंकित को थप्पड़ मारा था। इस पर अंकित ने भी जेल अधिकारी को थप्पड़ जड़ दिया था। जेल अधिकारी ने कर्मचारियों को बुलवाकर अंकित को बेरहमी से पीटा था, इसके चलते उसकी मौत हो गई थी। इस घटना को लेकर हरी नगर थाने में हत्या का मामला दर्ज किया गया था।

परिजनों ने की CBI जांच की मांग

अंकित की हत्या के मामले में परिजनों ने अदालत से जेल अधिकारियों के खिलाफ एक्शन लेने के लिए याचिका दायर की है। वहीं पुलिस अपने स्तर पर जांच कर रही है। उधर हत्या के मामले में अंकित गुर्जर के साथ शामिल रहे सतेंद्र उर्फ सत्ते को हाल ही में स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया था। उसने पुलिस को बताया कि वह बीते जुलाई महीने में अंतरिम पैरोल पर जेल से निकला था। उसे जब अंकित गुर्जर की हत्या के बारे में पता चला तो वह जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट की हत्या के लिये साजिश रच रहा था।

इस मामले में अंकित गुर्जर के परिवार ने High Court में याचिका दायर की थी कि जेल प्रशासन द्वारा उसकी हत्या की गई है। इस मामले की जांच CBI से करवाई जाए। उनकी याचिका को स्वीकार करते हुए आज High Court ने आदेश दिया है कि CBI पूरे मामले की छानबीन कर हत्या कांड से संबंधित सच्चाई को सामने लाए।

यह भी पढ़ें: CM Yogi सभी राज्यों के टोक्यो पैरालंपिक विजेताओं को करेंगे सम्मानित

Related Articles