सीबीआई की विशेष कोर्ट ने राणा कपूर की पत्नी व बेटी पर सुनाया बड़ा फैसला

मुंबई: यस बैंक (Yes Bank) के फाउंडर राणा कपूर (Rana Kapoor) की पत्नी को सीबीआई की विशेष कोर्ट से शनिवार को बड़ी राहत मिली है। इनके अलावा इनकी बेटी को भी राहत दी गई है। राणा कपूर की पत्नी बिंदू और बेटी राधा को प्राइवेट लेंडर डीएचएफएल से जुड़े एक मामले में अभी कुछ दिनों पहले ही सीबीआई की तरफ से दायर सप्लीमेंट्री चार्जशीट में आरोपी के तौर पर नामित किया गया था लेकिन दोनों की गिरफ्तारी नहीं हुई थी।

वहीं सीबीआई की विशेष अदालत ने शनिवार को राणा कपूर की पत्नी बिंदू व बेटी राधा को अंतरिम जमानत दे दी है। अदालत ने चार्जशीट पर संज्ञान लेते हुए आरोपियों को तलब किया था और दोनों शनिवार को कोर्ट में पेश हुए। इसके बाद उन्होंने अपने वकील विजय अग्रवाल और राहुल अग्रवाल के माध्यम से जमानत के लिए आवेदन करते हुए दलील दी कि उनकी गिरफ्तारी की आवश्यकता नहीं है क्योंकि सीबीआई ने उन्हें जांच के दौरान गिरफ्तार करे बिना चार्जशीट भी दायर किया था।

जांच एजेंसी ने याचिकाओं पर

जब जांच एजेंसी ने याचिकाओं पर जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा, तब दोनों ने अंतरिम जमानत के लिए अनुरोध किया जिसे स्पेशल जज एस यू वडगांवकर ने स्वीकार कर लिया। फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं राणा कपूर सीबीआई के मुताबिक कपूर और उनके परिवार को डीएचएफएल के डिबेंचर में यस बैंक द्वारा 3,700 करोड़ रुपये के निवेश के लिए रिश्वत मिली थी।

600 करोड़ की घूस

सीबीआई का दावा है कि डीएचएफएल ने बदले में कपूर को लोन के तौर पर 600 करोड़ रुपये की घूस दी। घूस की यह रकम उनकी पत्नी और बेटियों द्वारा नियंत्रित एक फर्म को लोन के रूप में दी गई।

Related Articles