सीबीएसई परीक्षा परिणाम मई के तीसरे हफ्ते में आने की संभावना

0

सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षा के परिणाम मई के तीसरे सप्ताह तक घोषित कर दिये जाएंगे। उक्त जानकारी गुरुवार को सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने एक प्रेसवार्ता में दी।

उन्होंने कहा कि कॉपियों के मूल्यांकन को लेकर शिक्षक लगातार काम कर हैं। हमें उम्मीद है कि मूल्यांकन की प्रक्रिया 15 अप्रैल तक समाप्त हो जायेगी। सीबीएसई इस वर्ष 1.70 करोड़ कॉपियों का मूल्यांकन देश में बने 3 हजार मूल्यांकन केंद्रों पर कर रही है। एक शिक्षक प्रतिदिन 8 घंटे में 25 मूल्यांकन करता है।

बोर्ड ने परीक्षा सफलतापूर्वक संपन्न कराने के पीछे समय प्रबंधन, तकनीकी का इस्तेमाल और सभी कर्मचारियों की जिम्मेदारीपूर्ण भूमिका को माना है। इसके अलावा प्रश्नपत्रों को वैज्ञानिक तरीके तैयार किये जाने के कारण भी छात्रों को परेशानी नहीं हुई है।

सीबीएसई ने बताया कि इस वर्ष 213 विषय और 55 स्किल सब्जेक्ट की परीक्षा सुचारू रूप से संपन्न कराई गई है। देश भर के 21 हजार स्कूल सीबीएसई से संबद्ध हैं। सीबीएसई ने बताया कि 31 लाख से अधिक छात्र ने 10वीं और 12वीं की परीक्षा में रजिस्टर्ड हुये थे। इसमें से 1827472 छात्र 10वीं के हैं और 1287359 छात्र 12वीं के हैं। सीबीएसई में सबसे अधिक कक्षा 12 में 7.28 लाख छात्रों ने फिजिकल एजुकेशन को विषय के रूप में लिया।

अनुभवपरक शिक्षा पर जोर

सीबीएसई ने शैक्षणिक सुधार के कई बदलाव के भी संकेत दिए। बोर्ड सचिव ने बताया कि हम अनुभवपरक शिक्षा पर जोर देंगे। शैक्षणिक सुधार हमारी प्राथमिकता है इसके लिये कई बदलाव करने जा रहे हैं।

दिल्ली की छात्राएं अधिक

बोर्ड परीक्षा में सबसे अधिक 33,86613 छात्र उत्तर प्रदेश से शामिल हुये। जबकि सबसे अधिक दिल्ली की छात्रायें परीक्षा में शामिल हुईं। इनकी संख्या 272271 है।

10 से भी कम ने परीक्षा दी  

12वीं कक्षा में कर्नाटक संगीत, मोहिनीअट्टम नृत्य, हेल्थ केयर मैनेजमेंट, थिएटर स्टडीज एंड लाइब्रेरी एंड इंफार्मेशन साइंस में दस से भी कम छात्र परीक्षा में शामिल हुए।

loading...
शेयर करें