CBSE पेपर लीक : पीएम मोदी की फटकार के बाद दिल्ली पुलिस ने तेज की जांच, कई जगहों पर छापेमारी

0

नई दिल्ली| केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं कक्षा के कथित पेपर लीक मामले की जांच के लिए दिल्ली पुलिस ने अपनी अपराध शाखा का एक विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित किया है। विशेष पुलिस आयुक्त आर.पी. उपाध्याय ने बताया, “एसआईटी का नेतृत्व संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार करेंगे। जांच करने वाली एसआईटी में पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) और सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) रैंक के पुलिसकर्मी शामिल हैं।”

पेपर लीक मामले

सीबीएसई द्वारा अपराध शाखा में दो मामले दर्ज करने के बाद एसआईटी का गठन हुआ है। पहला मामला मंगलवार शाम दर्ज हुआ था, जिसमें सीबीएसई की 12वीं कक्षा के अर्थशास्त्र विषय के प्रश्न-पत्र लीक होने का मामला था, तथा बुधवार को दर्ज दूसरे मामले में 10वीं के गणित विषय के प्रश्न-पत्र लीक का मामला था।

12वीं की अर्थशास्त्र की परीक्षा 26 मार्च को, जबकि 10वीं की गणित की परीक्षा बुधवार को हुई थी। सीबीएसई ने दोनों प्रश्न-पत्रों की परीक्षा दोबारा कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए परीक्षा की नई तिथि और अन्य जानकारियों की घोषणा सीबीएसई की वेबसाइट पर एक सप्ताह के अंदर कर दी जाएगी।

पीएम मोदी ने भी पेपर लीक होने पर नाराजगी जताई है। उन्होंने मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से बात की। उधर, दिल्ली पुलिस ने भी सीबीएसई की शिकायत पर पर्चा लीक मामले में जांच शुरू कर दी है। मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पेपर लीक होने पर खेद जताया है। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि यह तय है कि पेपर लीक करने के पीछे कोई गिरोह योजनाबद्ध तरीके से काम कर रहा था, जो जल्द पकड़ा जाएगा। मुझे पता है कि पेपर लीक होना दुखद है।

 

loading...
शेयर करें