धूमधाम से मना क्रिसमस का त्योहार, ‘मेरी क्रिसमस’ कहकर लोगों ने एक दूसरे को दी बधाई

विभिन्न राज्यों में प्रतिबंधों में थोड़ी ढील देते हुए धार्मिक सभा की अनुमति दी गयी लेकिन चेहरे पर मास्क लगाने और शारीरिक दूरी बनाये रखने के नियमाें का सख्ती से पालन करने का निर्देश भी दिया गया है।

नई दिल्ली: देश भर में शुक्रवार को क्रिसमस का त्योहार पारंपरिक हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस साल कोरोना महामारी के मद्देनजर समारोहों में बहुत धूमधाम नहीं रही। विभिन्न राज्यों में प्रतिबंधों में थोड़ी ढील देते हुए धार्मिक सभा की अनुमति दी गयी लेकिन चेहरे पर मास्क लगाने और शारीरिक दूरी बनाये रखने के नियमाें का सख्ती से पालन करने का निर्देश भी दिया गया है।

 

गिरजाघरों की घंटिया बजने के साथ ही ईसाई धर्मावलंबी कैथेड्रल और गिरजाघरों में मिडनाइट मास के लिए एकत्रित होने लगे। सीनियर बिशप और फादर ने क्रिसमस संदेश दिये। विभिन्न राज्यों के सभी गिरजाघरों में आधी रात और सुबह प्रार्थना सभा आयोजन किया गया जिनमें ईसाइयों ने भाग लिया।

नये कपड़ों में सजे-धजे ईसाई विशेष प्रार्थना के लिए गिरजाघर गये और एक-दूसरे को शुभकामनाएं दी। सभी गिरजाघरों को आकर्षक रूप से सजाया गया है। राज्य भर में विभिन्न शॉपिंग मॉल और होटलों में अलग-अलग आकार के क्रिसमस ट्री लगाये गये हैं। शहर के सैंथोम बेसिलिका में सबसे बड़ी प्रार्थना सभा आयोजित की गयी। इस बीच राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद और उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने क्रिसमस के अवसर पर देशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

यह भी पढ़े:

Related Articles