तालिबान की जीत पर पाक में जश्न, महाराजा रणजीत सिंह की मूर्ति पर हुआ आक्रमण

लाहौरः पाकिस्तान के लोग अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आते है, यहां के पंजाब प्रांत में लाहौर किले में लगी प्रथम सिख शासक महाराजा रणजीत सिंह की मूर्ति को तोड़ दी है। पिछले साल भी लाहौर में मूर्ति की बांह तोड़ दी गई थी। खबरों के मुताबिक अगस्त 2019 में भी दो युवकों ने इस मूर्ति को क्षतिग्रस्त किया था। महाराजा रणजीत सिंह सिख साम्राज्य के संस्थापक थे। ठीक ऐसे ही इस बार भी मंगलवार को रणजीत सिंह की नौ फुट ऊंची कांस्य की बनी प्रतिमा प्रतिबंधित तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) के एक कार्यकर्ता ने तोड़ दी।

जानकारी के मुताबिक, रणजीत सिंह की नौ फुट ऊंची कांस्य की बनी प्रतिमा को तोड़ने के मामले में पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। लाहौर किला परिसर में जून 2019 में रणजीत सिंह की नौ फीट की प्रतिमा का अनावरण किया गया था। महाराजा रणजीत सिंह की 180 वीं पुण्यतिथि को चिह्नित करने के लिए कांस्य से बनी प्रतिमा स्थापित की गई थी।

40 से अधिक किया शासन

1839 में मरने से पहले 40 से अधिक वर्षों तक महाराज रणजीत सिंह ने पंजाब पर शासन किया। उनकी मूर्ति तोड़ने का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें आरोपी नारे लगाते हुए मूर्ति की बांह तोड़ते और सिंह की प्रतिमा को घोड़े से नीचे गिराते दिख रहा है।

आरोपी गिरफ्तार

वीडियो में देख सकते है कि एक अन्य व्यक्ति प्रतिमा को नुकसान पहुंचाने वाले व्यक्ति को आकर रोकता है। विदेशी मीडिया ने बताया कि टीएलपी कार्यकर्ता को पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। लाहौर किले के प्रशासन ने कहा कि आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

https://twitter.com/fawadchaudhry/status/1427526071306661888?t=RqWH6XWwlnMSwobyQTfUEw&s=19

https://twitter.com/ANI/status/1427604340638851085?t=vfA1jK0Z4ni11yh1BF2HuQ&s=19

Related Articles