डॉक्टरों की मांग के आगे झुकी केंद्र सरकार, IMA ने खत्‍म की हड़ताल

0

नई दिल्ली। नेशनल मेडिकल कमीशन बिल (NMC) बनाने के सरकार के नए प्रस्‍ताव के खिलाफ देशभर के 3 लाख सरकारी और प्राइवेट डॉक्टर्स आज यानी 2 जनवरी को सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक हड़ताल पर थे। जिसके चलते अस्‍पतालों में बाह्य रोगी विभाग (ओपीडी) सेवाएं बंद थी। लेकिन अब खबर आ रही है कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA ) ने 12 घंटे की हड़ताल खत्म कर दी है।

IMA ने खत्‍म की हड़ताल

बता दें, सरकार की तरफ से राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग विधेयक 2017 को प्रवर समिति को भेजने पर सहमति मिलने के बाद IMA ने यह फैसला लिया है। वहीं IMA के पूर्व अध्यक्ष के.के.अग्रवाल ने बताया कि हमें अभी सूचना मिली है कि सरकार हमारी मांगों पर सहमति जताते हुए विधेयक को प्रवर समिति के पास भेज दिया है। ऐसे में हमने अपनी 12 घंटे की हड़ताल को खत्‍म कर दिया है।

IMA ने मंगलवार को ‘जन विरोधी व मरीज विरोधी’ NMC विधेयक, 2017 के विरोध में देश भर के निजी  अस्पतालों में 12 घंटे के बंद का आह्वान किया था। NMC विधेयक भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआई) की जगह लेगा।

IMA के 2.77 लाख सदस्य हैं, जिसमें देश भर के कॉरपोरेट अस्पताल, पॉली क्लिनिक, नर्सिग होम शामिल हैं। आईएमए के ओपीडी के 12 घंटे के बंद के आह्वान का देश के तमाम राज्यों के निजी अस्पतालों में काफी असर दिखा लेकिन राष्ट्रीय राजधानी में इस पर मिलीजुली प्रतिक्रिया देखी गई।

अपोलो, बीएलके सुपर स्पेशियलिटी व सर गंगा राम व दर्जनों दूसरे अस्पतालों सहित कई बड़े कॉरपोरेट अस्पतालों ने अपना कामकाज जारी रखा।

loading...
शेयर करें