केन्द्र सरकार झारखंड के साथ कर रही सौतेला व्यवहार : सुबोधकांत

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद सुबोधकांत सहाय ने केन्द्र सरकार पर झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को कहा कि केन्द्र झारखंड के हिस्से का वस्तु एवं सेवा कर

दुमका : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद सुबोधकांत सहाय ने केन्द्र सरकार पर झारखंड के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए शुक्रवार को कहा कि केन्द्र झारखंड के हिस्से का वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) और विकास की राशि कटौती कर राज्य के विकास में रोड़े अटका रहा है। सुबोधकांत सहाय ने यहां कांग्रेस कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार के कार्यशैली पर निशाना साधते हुए कहा कि कोराना काल में झारखंड को सहयोग करने के बदले कोयला, जीएसटी की राशि आवंटित करने के बदले विकास मद की राशि में कटौती कर राज्य के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है।

ये भी पढ़े : जम्मू-कश्मीर में उत्साह के साथ मनाई गई ईदे मिलाद उल-नबी

केन्द्र सरकार के अपेक्षित सहयोग नहीं मिलने के बावजूद राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार कोरोना काल में भी सीमित संसाधनों में बेहतर कार्य किया हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि राज्य की हेमंत सरकार ने पूरे धैर्य के साथ प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने की मुकम्मल व्यवस्था की। पेट भरने के लिए राशन एवं खाने का इंतजाम किया। पूर्ववर्ती सरकार द्वारा विरासत में राज्य का खजाना खाली मिला है। रघुवर दास की सरकार खजाना चट कर गई थी।

ये भी पढ़े : सेंसेक्स में देखी गयी मामूली तेज़ी, शेयरों के भाव दिनभर के उतार-चढाव के बाद हुये बंद

इसके आगे सहाय ने कहा कि झारखंड उप चुनाव के सााथ ही बिहार चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) का सुपड़ा साफ होने जा रहा है। यह संकेत है कि देश का मूड बदल रहा है। दुमका और बेरमो सीट पर महागठबंधन के प्रत्याशियों की जीत का दावा करते हुए कहा कि अब जुमलों पर कोई भरोसा करने वाला नहीं है।

Related Articles