केंद्र सरकार न करे हल्के में लेने की भूल, हम खेती भी करेंगे और आंदोलन भी: राकेश टिकैत

नई दिल्ली: हरियाणा (Hariyana) के खरक पूनिया में किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने केंद्र सरकार को आगाह करते हुए कहा की केंद्र सरकार (Central Government) इस भ्रम में न रहे कि किसान फसल काटने वापस लौट जायेंगे और आंदोलन समाप्त हो जायेगा. उन्होंने कहा कि अगर हमारे साथ किसी भी तरह की जबरदस्ती की गई तो हम किसान (Farmers) अपनी फसल को ही जला देंगे लेकिन मांगे पूरी न होने तक आंदोलन जारी रहेगा. बतौर टिकैत किसान हल भी चलाएगा और आंदोलन भी करेगा.

सरकार हमें हल्के में लेने की भूल न करे

किसान नेता टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा कि सरकार किसानों को महत्व नहीं दे रही है. अगर सरकार हमें हल्के में लेने की भूल कर रही है तो सरकार बिल्कुल गलत कर रही है. अगर सरकार का रवैया नहीं बदला तो हम ट्रैक्टर लेकर बंगाल भी पहुंच जायेंगे, वहां के किसानों को भी एमएसपी  नहीं मिल रहा है.

केंद्र सरकार पर साधा निशाना

उन्होंने बढ़ते पेट्रोल-डीजल के दाम पर केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि फसल की कीमत में भले ही कोई वृद्धि नहीं हो रही है लेकिन पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ रहे है.

प्रशसान के कील पर Rakesh Tikait का जौ

प्रशासन ने उत्तर प्रदेश गाजियाबाद में गाजीपुर बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए जिस जगह कीलें लगवाई थीं, अब वहां पर राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) जौ बोने की तैयारी कर रहे है। टिकैत ने गुरुवार को बाकायदा हल चलाकर जुताई भी शुरू कर दी। उन्होंने बताया कि सरकार को सचेत करने के लिए वह यहां पर जौ बोएंगे। साथ ही यहां मिट्टी रखकर क्रांति पार्क बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: पुडुचेरी में गरमाई राजनीति, मुख्यमंत्री ने बुलाई विधायकों की आपातकालीन बैठक

Related Articles

Back to top button