TikTok के सीईओ ने बैन के बाद भारतीय कर्मचारियों को दिया संदेश, नौकरी पर जताई चिंता

नई दिल्ली. भारत सरकार  की ओर से चीन के 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगाए जाने के बाद Ticktock के सीईओ ने भारत में कर्मचारियों को एक लेटर लिखा है. इस लेटर में कहा गया है कि इस प्लेटफॉर्म को देश में एक दुर्भाग्यपूर्ण चुनौती का सामना करना पड़ा रहा है. लेकिन हितधारकों के साथ मिलकर इस समस्या से निपटने के लिए काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘जिन 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया गया है उनमें टिकटॉक भी शामिल है.’

चीन के बाहर भारत में सबसे बड़ा बाजार

बाइटडांस , टिकटॉक और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म हेलो का मालिक है जिसे चीन के बाहर अपने सबसे बड़े बाजार के रूप में गिना जाता है. भारत में Ticktock के 200 मिलियन यूजर्स हैं. भारतीय कानून के तहत डेटा की गोपनीयता और सुरक्षा आवश्यकताओं का पालन करने के लिए टिकटॉक हमेशा प्रतिबद्ध है और रहेगा. किसी भी भारतीय टिकटॉक यूजर की कोई भी जानकारी विदेशी सरकार या चीनी सरकार को नहीं दी गई है. हमें स्पष्टीकरण और जवाब देने के लिए संबंधित सरकारी हितधारकों से मिलने के लिए आमंत्रित किया गया है.

कर्मचारियों को दिया आश्वासन

उन्होंने कहा कि ये कठिन समय है लेकिन कंपनी अपने टिकटॉक क्रिएटर कम्युनिटी के वेलफेयर के लिए प्रतिबद्ध है, जब तक कि यह अंतरिम आदेश लागू नहीं हो जाता. मेयर ने कहा कि टिकटॉक ने देश भर के आर्टिस्ट, स्टोरीटेलर और एजुकेटर को आनंद लेने के लिए लाखों करोड़ों यूजर को सक्षम किया है यहां तक कि लोगों की कमाई का एक साधन भी बना है.

Ticktock के सीईओ ने कहा, “हमारे कर्मचारी हमारी सबसे बड़ी ताकत हैं, और उनकी भलाई हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है. हमने 2,000 से अधिक मजबूत कर्मचारियों को भी आश्वासन दिया है कि हम सकारात्मक अनुभव और अवसरों को बहाल करने के लिए अपनी तरफ से सब कुछ करेंगे, जिस पर उन्हें गर्व हो सकता है.”

 

Related Articles